जागरण संवाददाता, हरिद्वार: पुलिस ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत समेत तीन सौ कांग्रेस कार्यकत्र्ताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। आरोप है कि शनिवार को सिडकुल में प्रदर्शन के दौरान इन सभी ने कोविड-19 की गाइडलाइन का उल्लंघन किया। मुकदमे में दो कांग्रेसी विधायक व जिला पंचायत उपाध्यक्ष सहित सात नेताओं को नामजद किया गया है।

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने शनिवार को उद्योगों में श्रमिकों के शोषण व बढ़ती बेरोजगारी के मुद्दे पर सिडकुल परिक्रमा कार्यक्रम का आयोजन किया था। आरोप है जुलूस, पदयात्रा और सभा के दौरान कार्यकत्ताओं ने शारीरिक दूरी के मानकों का पालन नहीं किया। इतना ही नहीं इनमें से ज्यादातर ने मास्क भी नहीं पहने थे। मामले में सिडकुल थानाध्यक्ष लखपत सिंह बुटोला की ओर से हरीश रावत के अलावा कलियर के विधायक फुरकान अहमद, भगवानपुर की विधायक ममता राकेश, जिला पंचायत उपाध्यक्ष राव आफाक अली, सफाई कर्मचारी आयोग के पूर्व अध्यक्ष किरण पाल वाल्मीकि और कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष राजवीर सिंह चौहान सहित करीब 300 कांग्रेसियों के खिलाफ आपदा अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया है। सिडकुल थानाध्यक्ष लखपत बुटोला ने बताया कि फोटो और वीडियो के आधार पर अन्य कार्यकत्र्ताओं की पहचान कराई जाएगी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस