जागरण संवाददाता, हरिद्वार। युवा खिलाड़ि‍यों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से प्रदेश सरकार एक और बड़ा कदम उठाने की तैयारी में है। सरकार जल्द ही हरिद्वार के रोशनाबाद स्थित हाकी स्टेडियम का नाम हाकी खिलाड़ी वंदना कटारिया के नाम पर कर सकती है।

कैबिनेट मंत्री स्वामी यतीश्वरानंद ने इस संबंध में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को पत्र लिखा है। जिसमें कहा गया है कि वंदना कटारिया ने ओलिंपिक में शानदार प्रदर्शन कर देश और प्रदेश का गौरव बढ़ाया है। युवाओं के लिए आदर्श स्थापित करने को रोशनाबाद स्थित हाकी स्टेडियम का नाम बदलकर वंदना कटारिया हाकी स्टेडियम करना चाहिए। प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने वंदना कटारिया के घर पहुंचकर उनको तीलू रौतेली पुरस्कार से सम्मानित किया। साथ ही ओलिंपिक में बेहतरीन प्रदर्शन पर 25 लाख रुपये का चेक भी सौंपा। वंदना कटारिया दिल्ली में स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात करेंगी। टोक्यो ओलिंपिक से वंदना कटारिया 11 अगस्त को हरिद्वार के रोशनाबाद स्थित अपने गांव पहुंची थी और अब तीन दिन परिवार के साथ बिताकर दिल्ली लौट गई हैं।

--------------

भेल को कर्मचारियों पर गर्व

स्वतंत्रता दिवस समारोह समिति के बैनर तले 75वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर देश के शहीदों तथा भेल की प्रगति में अपना अमूल्य योगदान देने वाले दिवंगत श्रमिकों को श्रद्धांजलि दी गई। कार्यपालक निदेशक संजय गुलाटी ने देश की आजादी तथा उसके बाद राष्ट्र निर्माण की राह में अपने प्राण न्यौछावर करने वाले शहीदों के प्रति कृतज्ञता प्रकट करते हुए कारखाना परिसर में श्रमिक स्मारक पर पुष्प गुच्छ अर्पित किए।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि भेल को अपने कर्मचारियों पर गर्व है । उन्होंने कहा कि कंपनी के सामने आने वाली हर प्रकार की परिस्थितियों में कर्मचारियों ने हमेशा ईमानदारी तथा लगन से काम करते हुए कंपनी को आगे बढ़ाने में अपना भरपूर योगदान दिया है। इस अवसर पर कंपनी के महाप्रबंधकगण, वरिष्ठ अधिकारी, कर्मचारी तथा श्रमिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने भी पुष्पांजलि अर्पित कर दिवंगत श्रमिक शहीदों को दो मिनट के मौन द्वारा अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

यह भी पढ़ें:-हैट्रिक गर्ल वंदना को एक करोड़ और आवास दे सरकार, जानें- और क्या कहती हैं महापौर

 

Edited By: Sunil Negi