जागरण संवाददाता, हरिद्वार। आइपीएल सट्टेबाजी की लत और महंगे शौक पूरे करने की चाहत ने बीएससी के छात्र को वाहन चोर गिरोह का सरगना बना दिया। गुरुकुल कांगड़ी विवि में बीएससी की पढ़ाई कर रहे वकुल ने ज्वालापुर के आंबेडकरनगर में किराए पर कमरा लिया हुआ था। बाइक चोरी की घटना को अंजाम दिलाने के लिए वह अपने गांव महेश्वरी के अलावा लक्सर और सहारनपुर से साथियों को बुलाता था। चोरी की बाइकें महज पांच से सात हजार रुपये में देहात क्षेत्र में बेच दी जाती थी।

पूछताछ में वकुल ने बताया कि वह आइपीएल मैच में सट्टा लगाने का आदी हो गया था। उसे सट्टे के लिए जब भी पैसे की जरूरत होती, अपने साथियों को बुला लेता था। बाइक चोरी कर बेचने के बाद आपस में पैसे बांट लेते थे। ताज्जुब की बात यह है कि चोरी की बाइक होने की जानकारी के बावजूद लोग लालच में बाइकों को खरीद लेते थे।

पूछताछ के बाद पुलिस ने जब बाइक खरीदने वालों के घरों पर दबिशें दी तो हड़कंप मच गया। लोग हाथ जोड़कर बाइक पुलिस को सौंपते नजर आए। हालांकि, पुलिस ने उनके खिलाफ फिलहाल कोई कार्रवाई नहीं की है, अलबत्ता जानकारी के बावजूद चोरी की बाइक खरीदने पर नियमानुसार उन पर कार्रवाई हो सकती है। वकुल ने बताया कि बाइक बेचने से पहले उसकी नंबर प्लेट हटा देते थे। खरीदने वाले को यह बता दिया जाता था कि बाइक केवल गांव में ही चलानी है। इसलिए वह सतर्कता से चोरी की बाइक चलाते थे।

चुटकी में चोरी करते थे स्पलेंडर बाइक

गिरोह से बरामद कुल 16 बाइकों में से 15 स्पलेंडर हैं। रेल चौकी प्रभारी खेमेंद्र गंगवार ने बताया कि स्पलेंडर का लॉक कुछ दिन किसी भी दूसरी चाबी से आसानी से खुल जाता है। इसलिए स्पलेंडर बाइकें ही गिरोह के निशाने पर रहती थी। वह किसी भी बाइक की चाबी लगाकर चुटकी में स्पलेंटर का लॉक खोल देते थे।

चोरों से चोरी हुई एलआइयू दारोगा की बाइक

एलआइयू में तैनात दारोगा अनुसूईया प्रसाद कंडवाल की बाइक पर इसी गिरोह ने ज्वालापुर क्षेत्र से हाथ साफ किया था। पूछताछ में उन्होंने यह बात कुबूल भी की, लेकिन आगे की कहानी और दिलचस्प निकली। ज्वालापुर कोतवाल चंद्र चंद्राकर नैथानी ने बताया कि एलआइयू दारोगा की अपाचे बाइक पर वकुल और उसके साथ एक शादी में गए थे। वहां कुछ युवक जानते थे कि वकुल बाइक चोरी करता है। इसलिए उनमें से किसी ने शादी के दौरान बाइक चोरी कर ली। बताया कि बाकी आरोपितों को गिरफ्तार कर दारोगा की बाइक बरामद करने का प्रयास किया जा रहा है। 

यह भी पढ़ें- वि‍कासनगर में हेरोइन तस्करी में हरबर्टपुर का युवक गिरफ्तार

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें