संवाद सहयोगी, हरिद्वार: एशियन गेम्स में सेकेंड बेस्ट स्कोर बनाने और भारत को सिल्वर मेडल दिलाने पर भारतीय महिला हॉकी खिलाड़ी वंदना कटारिया को जिलाधिकारी दीपक रावत ने जिले की बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान की ब्रांड अंबेसडर नियुक्त किया है। इसके अलावा उन्होंने कलेक्ट्रट सभागार में जिलाधिकारी के लिए आरक्षित कुर्सी पर बैठाकर उनका सम्मान किया।

शुक्रवार को जिला प्रशासन की ओर से वंदना कटारिया के सम्मान में कलक्ट्रेट सभागार में सम्मान समारोह में जिलाधिकारी दीपक रावत ने कहा कि किसी भी प्रतियोगिता में वंदना की जीत केवल वंदना की जीत नहीं, बल्कि उस साहस की जीत है। जो माता-पिता बेटियों को जन्म देकर, उन्हें शिक्षा, समानता का अवसर देकर आगे बढ़ाते हैं। ये उस सोच की जीत है जो बेटा-बेटी में अंतर को नहीं मानती। जिलाधिकारी ने वंदना कटारिया को हरिद्वार में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान की ब्रांड अंबेसडर भी घोषित किया। डीएम ने कहा कि बेटियों को बचाने, पढ़ाने तथा आगे बढ़ाने के लिए जिला प्रशासन समय-समय पर उनका सहयोग लेगा। साथ ही उन्होंने वंदना कटारिया से खेल के संबंध में सुझाव आमंत्रित किए हैं। उनके सुझावों को शासन से स्पोटर्स पॉलिसी में शामिल किये जाने का अनुरोध किया जाएगा। रानीपुर विधायक आदेश चौहान ने वंदना को पूरे जिले के लिए रॉल मॉडल बताया। उन्होंने वंदना को शॉल व बुकें भेंट कर सम्मानित किया। अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी विनीत तोमर, जिला क्रीड़ा अधिकारी सुनील डोभाल, युवा कल्याण अधिकारी रमेश चंद, बेसिक शिक्षा अधिकारी ब्रह्मपाल सैनी, जिला सेवायोजन अधिकारी उत्तम कुमार, जिला विकास अधिकारी पुष्पेंद्र चौहान आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran