रुड़की: त्यागी कल्याण एवं विकास समिति की ओर से राष्ट्रपति को संबोधित एक ज्ञापन बुधवार को तहसील परिसर में तहसीलदार को दिया गया। जिसमें एससी-एसटी एक्ट पर सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय को संसद की ओर से पलटने का विरोध किया गया। लोगों ने कहा कि उनकी मांग है कि एससी-एसटी एक्ट में संसद की ओर से किए गए संशोधन को निरस्त कर सर्वोच्च न्यायालय की ओर से एफआइआर से पहले जांच और अग्रिम जमानत की व्यवस्था को समाहित कर ही उक्त एक्ट को लागू किया जाए। ज्ञापन देने वालों में जेडी त्यागी, माधारोम त्यागी, श्याम कुमार त्यागी, नरेश त्यागी, ब्रजेश त्यागी, राजेंद्र त्यागी, नितिन त्यागी, योगेश त्यागी, विकास त्यागी, प्रमोद त्यागी, नरोत्तम, मुनेश, बालिस्टर भान त्यागी, विनीत त्यागी आदि उपस्थित रहे। (जासं)

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप