जागरण संवाददाता, हरिद्वार: एसएमजेएन पीजी कॉलेज का छात्र संघ चुनाव रद्द होने के विरोध में सड़क जाम करने वाले युवा कांग्रेस व एनएयूएसआइ कार्यकर्ताओं के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। इससे भड़के कार्यकर्ताओं ने जुलूस निकाल कर प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय का घेराव करते हुए बाहर भाजपा कार्यालय का बोर्ड लगा दिया।

शनिवार को युवा कांग्रेस और एनएसयूआइ के कार्यकर्ता भगत ¨सह चौक पर इकट्ठा हुए और जुलूस के रूप में नारेबाजी करते हुए सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय पहुंचे। कार्यकर्ताओं ने सिटी मजिस्ट्रेट मनीष कुमार ¨सह पर अभाविप, भाजपा और प्रदेश सरकार के दबाव में चुनाव स्थगित करने का आरोप लगाया। युवा कांग्रेस नेता वरुण बालियान और एनएसयूआइ के शहर अध्यक्ष सुमित त्यागी ने चेतावनी दी कि पांच दिन के भीतर संवैधानिक तरीके से चुनाव नहीं कराए गए तो जिले भर में आंदोलन करेंगे। साथ ही हाईकोर्ट की शरण भी लेंगे। इस बीच तहसीलदार सुनैना राणा नगर मजिस्ट्रेट कार्यालय पर पहुंची। कार्यकर्ताओं ने उन्हें ज्ञापन सौंपा।

विरोध प्रदर्शन करने वालों में युकां जिलाध्यक्ष अमरदीप रोशन, एनएसयूआइ कॉलेज प्रभारी चंद्रशेखर, पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष गौरव वर्मा व अमन शर्मा, श्रवण श्रोत्रिय, अथर अंसारी, सुहेल अख्तर आदि शामिल रहे।

इन पर हुआ मुकदमा

हरिद्वार: पुलिस ने ज्वालापुर कोतवाली में वरुण बालियान, सुमित त्यागी, सोहेल, गौरव वर्मा, पारु उर्फ ¨प्रस, अमन, समीर अंसारी व अन्य पर मुकदमा दर्ज किया है। छात्रों के हंगामे की आशंका पर शुक्रवार को कॉलेज में भारी पुलिस बल तैनात रहा। कोतवाली प्रभारी अमरजीत ¨सह ने बताया कि जाम लगाने वाले अन्य लोगों की पहचान भी की जा रही है।

Posted By: Jagran