जागरण संवाददाता, रुड़की: एशियन डेवलपमेंट बैंक की ओर से जल संस्थान को नवनिर्मित आठ ट्यूबवेल सौंप दिए गए हैं। अब इन ट्यूबवेलों के संचालन का कार्य जल संस्थान की ओर से किया जाएगा।

पेयजल प्रोजेक्ट के तहत एडीबी की ओर से सोलानीपुरम, गांधी वाटिका, नगर निगम परिसर, यादवपुरी, मकतूलपुरी और इंदिरा पार्क में एक-एक और गणेशपुर में दो ट्यूबवेल बनाए गए हैं। इन आठ ट्यूबवेल के निर्माण से शहर में पानी की आपूर्ति बढ़कर प्रतिदिन 32 एमएलडी हो गई। प्रत्येक ट्यूबवेलों की क्षमता 1800 लीटर प्रति मिनट है। इससे पहले जल संस्थान के करीब आधा दर्जन ट्यूबवेल खराब होने की वजह से उपभोक्ताओं को रोजाना मात्र 15-16 एमएलडी पानी ही उपलब्ध हो पा रहा था। जबकि उपभोक्ताओं की ओर से प्रतिदिन 20 एमएलडी पानी की मांग की जाती है। जिससे आए दिन उपभोक्ताओं को पानी की किल्लत से जूझना पड़ता था, लेकिन नए ट्यूबवेलों से पानी की आपूर्ति प्रारंभ होने से आपूर्ति बढ़ गई है। वहीं, इन ट्यूबवेलों से ठीक प्रकार से पानी की आपूर्ति चालू होने के बाद अब एडीबी ने जल संस्थान को इन्हें सौंप दिया है। एडीबी के सहायक अभियंता संजीव कुमार के अनुसार जो आठ नये ट्यूबवेल बनाए गए थे, उन्हें जल संस्थान को सौंप दिया गया है।

Posted By: Jagran