संवाद सहयोगी, रुड़की: शंकरपुरी गांव में डेंगू का कहर कम होने का नाम नहीं ले रहा है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गुरुवार को एक बार फिर स्वास्थ्य शिविर लगाकर 40 बुखार पीड़ितों के रक्त के सैंपल लिए। इनमें 22 मरीज रैपिड जांच में डेंगू पाजीटिव मिले।

जिले में डेंगू मरीजों की संख्या बढ़कर 79

इसके बाद जिले में डेंगू मरीजों की संख्या बढ़कर 79 हो गई है, जिसमें 68 डेंगू पीड़ित सिर्फ शंकरपुरी के हैं। वहीं एक महिला की मौत भी हो चुकी है। हालांकि ग्रामीण विभागीय आंकड़ों को गलत बता रहे हैं और गांव में अधिक मरीज होने की बात कह रहे हैं। उधर, गुरुवार को एक डेंगू पीड़ित महिला की हालत बिगड़ने पर उसे मेला अस्पताल हरिद्वार में भर्ती कराया गया।

गांव में घूमकर कीटनाशक दवाओं का कराया छिड़काव

दैनिक जागरण ने गुरुवार के अंक में शंकरपुरी में डेंगू पीड़ित मरीजों का आंकड़ा कम दिखाने की खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग एक बार फिर हरकत में आया और गांव में स्वास्थ्य शिविर लगाया गया। साथ ही टीम ने गांव में घूमकर कीटनाशक दवाओं का छिड़काव कराया। इसके अलावा ग्रामीणों को डेंगू के लार्वा को लेकर जागरूक करने के साथ ही पर्चे भी बांटे।

टीम ने मेला अस्पताल में मह‍िला को कराया भर्ती

इस दौरान एक डेंगू पीड़ित महिला झोलाछाप के क्लीनिक में भर्ती मिली। महिला की गंभीर हालत को देखते हुए उसे स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मेला अस्पताल हरिद्वार में भर्ती कराया और अन्य मरीजों का भी हालचाल जाना।

मरीजों को दवाओं के साथ ओआरएस कराया उपलब्ध

साथ ही मरीजों को दवाओं के साथ ओआरएस आदि उपलब्ध कराया। टीम में जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण अधिकारी गुरनाम सिंह, वेक्टर जनित रोग नियंत्रण निरीक्षक सीएम कंसवाल आदि मौजूद रहे।

69 रिपोर्ट का अभी भी है इंतजार

सिविल अस्पताल रुड़की की पैथोलाजी लैब में लाखों रुपये की एलाइजा मशीन लगी है। लेकिन, मशीन का मरीजों को लाभ नहीं मिल पा रहा है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने तीन दिन पहले शंकरपुरी गांव से 69 सैंपल लिए थे। इनकी एलाइजा रिपोर्ट अभी तक नहीं मिली है। ग्रामीणों का कहना है कि रिपोर्ट आ जाती तो वह उसके आधार पर उपचार कराते।

डेंगू को लेकर स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में

सीएमओ, हरिद्वार के सीएमओ डा. कुमार खगेंद्र सिंह का कहना है क‍ि शंकरपुरी गांव में डेंगू को लेकर स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। गुरुवार को भी गांव में कैंप लगाया गया था। डेंगू की रैपिड जांच कराई गई थी, जिसमें 22 मरीज पाजीटिव मिले। नगर निगम गांव में फॉगिंग करा रहा है। ग्रामीणों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। मेला अस्पताल में डेंगू पीड़ित मरीजों के उपचार की पूरी व्यवस्था है।

Uttarakhand News: उत्‍तराखंड में मैदान से लेकर पहाड़ तक डंक मार रहा डेंगू, अब तक आ चुके हैं 192 मामले

Edited By: Sumit Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट