जागरण संवाददाता, हरिद्वार: ज्वालापुर कोतवाली पुलिस ने हिस्ट्रीशीटरों की परेड कराई। 19 में से 15 हिस्ट्रीशीटर कोतवाली पहुंचे। ज्वालापुर कोतवाल मनोज कुमार मेनवाल ने हिस्ट्रीशीटरों से उनकी मौजूदा गतिविधियों के बारे में जानकारी ली।

पिछले सप्ताह डीएम दीपक रावत ने ज्वालापुर कोतवाली का वार्षिक मुआयना किया था। डीएम ने कोतवाली के दस्तावेजों का निरीक्षण करते हुए लोकसभा चुनाव के मद्देनजर हिस्ट्रीशीटरों व पुलिस रिकॉर्ड में दर्ज आपराधिक तत्वों के बारे में जानकारी जुटाई थी। हर महीने हिस्ट्रीशीटरोंकी परेड कराने के निर्देश भी डीएम ने दिए थे। जिस पर कोतवाल मनोज कुमार मेनवाल ने कोतवाली के सभी 19 हिस्ट्रीशीटरों के घरों पर संपर्क साधते हुए रविवार को कोतवाली बुलाया था। इनमें चार हिस्ट्रीशीटरों के अलग-अलग कामों से घर से बाहर जाने की जानकारी मिली। रविवार दोपहर 15 हिस्ट्रीशीटर कोतवाली पहुंचे। कोतवाली प्रभारी मनोज कुमार मेनवाल ने हिस्ट्रीशीटरों की वर्तमान स्थिति को जाना। उनके बच्चे कितने और कहां रहते हैं। किन-किन लोगों से मिलना जुलना होता है। ज्यादातर हिस्ट्रीशीटरों का कहना था कि उन्होंने अब अपराध से दूरी बना ली है।

कोई बिजनेस तो कोई खेती में हाथ आजमा रहा है। कुछ राजनीति के माध्यम से समाजसेवा भी कर रहे हैं। पूछताछ और कागजी कार्यवाही पूरी करने के बाद हिस्ट्रीशीटरों को वापस भेज दिया गया। कोतवाल मनोज मेनवाल ने बताया कि उन्हें हर महीने कोतवाली में परेड करने के लिए कहा गया है। जो चार हिस्ट्रीशीर परेड में नहीं पहुंचे हैं, उन्हें जल्द से जल्द कोतवाली पहुंचने की हिदायत दी गई है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप