संवाद सूत्र, डोईवाला : अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद डोईवाला इकाई के कार्यकर्ताओं ने स्वामी विवेकानंद की 155वी जयंती को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया। इस अवसर पर स्वामी विवेकानंद के बताए मार्ग पर चलने का संकल्प लिया गया।

डोईवाला में आयोजित विचार गोष्ठी में परिषद के प्रदेश सह मंत्री अनुज जोशी, परिषद के पूर्व जिला संयोजक अंकित तिवारी ने कहा कि शिकागो धर्मसंसद वर्ष 1893 में भारतीय संस्कृति एवं सभ्यता से पूरे विश्व का परिचित कराया। कार्यक्रम में परिषद की गढ़वाल संभाग छात्रा प्रमुख संगीता, पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष लोकेश ¨सह राणा, विश्वविद्यालय प्रतिनिधि नितेश, आकाश थापा, सहसचिव दिलीप, कोषाध्यक्ष रश्मि, दीपक कृषाली, प्रशांत ¨सह, अंकित टम्टा ने विचार व्यक्त किए। इस अवसर पर प्रवीन कृषाली, विकास, प्रदीप, मुकेश, हिमांशु थपलियाल, मोहित कक्कड़, विनय पटवाल, अजय बिष्ट, विकास, निशांत मिश्रा, गौरव डंडरियाल, पंकज जोशी, मोनू, नीलम, रीता, आरती रावत, सुरेखा आदि मौजूद थे। उधर, देहरादून रोड डोईवाला में एडवोकेट मनीष कुमार धीमान की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम में स्वामी विवेकानंद के आदर्शो को अपनाने का आह्वान किया गया। वहीं स्वतंत्रता संग्राम के महान क्रांतिकारी सूर्यसेन की शहादत पर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। इस अवसर पर डॉ. आशीष पाल, अनूप सोनकर, जितेंद्र कुमार, चमनलाल कौशल, वर्षा शर्मा, सुरभि कौशल, सुमित लोधी आदि उपस्थित थे। पब्लिक इंटर कॉलेज डोईवाला में प्रधानाचार्य जितेंद्र कुमार की अध्यक्षता में आयोजित गोष्ठी में स्वामी विवेकानंद का भारतीय संस्कृति में योगदान के बारे में विस्तार से बताया गया। इस अवसर पर सभासद पंकज शर्मा, वरिष्ठ शिक्षक बीडी मंमगाई, अश्वनी गुप्ता, आशुतोष डबराल, चेतन कोठारी, वेद प्रकाश दीवान आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस