जागरण संवाददाता, देहरादून। Uttarakhand Weather Update: तीन दिन कहर बरपाने के बाद उत्तराखंड में मौसम ने राहत दे दी है। बुधवार को प्रदेश के ज्यादातर इलाकों में मौसम सामान्य रहा। मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार को भी प्रदेश में मौसम शुष्क बना रहेगा। कहीं-कहीं आंशिक बादल छाये रहने के साथ ही हल्की बूंदाबांदी हो सकती है। इसके अलावा प्रमुख शहरों का तापमान भी सामान्य के आसपास रहने की संभावना है।

उत्तराखंड में बीते रविवार से मंगलवार के बीच बारिश आफत बनकर बरसी। कुमाऊं में जानमाल का भारी नुकसान हुआ। जबकि, गढ़वाल के पर्वतीय क्षेत्रों में भी आमजन को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। अक्टूबर में हुई रिकार्ड बारिश के चलते अचानक आपदा के हालात पैदा हो गए। हालांकि, मौसम ने अब राहत दे दी है। बुधवार को पूरे दिन देहरादून समेत ज्यादातर इलाकों में मौसम सामान्य रहा।

हालांकि, दोपहर बाद कुछ इलाकों में एक बार फिर बादल मंडराने लगे और बूंदाबांदी के आसार बन गए। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक, आज प्रदेश के अधिकतर इलाकों में मौसम शुष्क रहेगा। कहीं-कहीं हल्की से बेहद हल्की बारिश हो सकती है। इसके अलावा न्यूनतम तापमान में भी गिरावट आ सकती है। फिलहाल अधिकतम तापमान सामान्य से कुछ अधिक बना रह सकता है।

------------------- 

हाथी सुरक्षा दीवार बनाने की मांग

झंडीचौड़ के काश्तकारों ने क्षेत्र में हाथी सुरक्षा दीवार बनवाने की मांग की है। बुधवार को झंडीचौड़ में आयोजित बैठक में काश्तकारों ने कहा कि उनके क्षेत्र का अधिकांश भाग जंगल से सटा हुआ है। आए दिन जंगली जानवर आबादी में पहुंचकर खेती को बर्बाद कर रहे हैं। शाम ढलते ही जंगली जानवर खेतों में पहुंच जाते हैं। काश्तकार पूरी रात जागकर खेतों में फसल की रखवाली करने को मजबूर हो रहे हैं।

काश्तकारों ने कहा कि पूर्व में उन्होंने इस समस्या से वन एवं पर्यावरण मंत्री डॉ.हरक सिंह रावत को भी अवगत करवाया था, लेकिन स्थिति जस की तस बनी हुई है। काश्तकारों ने जल्द समस्या का निराकरण न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है। इस मौके पर सत्यप्रकाश चौहान, राजेंद्र बिंजोला, सुखवीर सिंह, रानी देवी आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें:-Uttarakhand Weather Update: उत्‍तराखंड में अक्टूबर में बारिश ने तोड़ा 36 साल का रिकार्ड

Edited By: Sunil Negi