जागरण संवाददाता, विकासनगर। कोतवाली की पुलिस ने कोविड कर्फ्यू गश्त के दौरान कैनाल रोड से एक युवक को हेरोइन व इलेक्ट्रॉनिक तराजू के साथ गिरफ्तार किया। पुलिस ने आरोपित के पास से 4.40 ग्राम स्मैक बरामद की। पुलिस ने आरोपित के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में मुकदमा दर्ज किया। पुलिस आरोपित को सोमवार को न्यायालय में पेश करेगी।

   रविवार को कोविड कफ्र्यू की गाइडलाइन का पालन न करने वालों के विरुद्ध कार्रवाई को कोतवाल ने चौकी क्षेत्रों में अलग-अलग पुलिस टीमें गठित कर गश्त कराई। पुलिस टीम में शामिल बाजार चौकी प्रभारी अर्जुन गुसाईं, सिपाही कपिल रावत, संदीप कुमार, अनिल भंडारी गश्त करते हुए जैसे ही अजीतनगर में पहुंचे तो कैनाल रोड की तरफ एक व्यक्ति सड़क पर फालतू घूमता दिखाई दिया, जो पुलिस को देखकर भागने लगा। शक के आधार पर पुलिस टीम ने युवक को पकड़कर पूछताछ की।

 आरोपित ने अपनी पहचान नीतिश पुत्र अजय कुमार निवासी हरबर्टपुर के रूप में बताई। पूछताछ में युवक घूमने का कोई सही कारण नहीं बता सका। जिसकी तलाशी में नीतीश के कब्जे से 4.40 ग्राम हेरोइन व एक इलेक्ट्रॉनिक तराजू बरामद किया। आरोपित नीतिश के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में मुकदमा दर्ज किया। कोतवाल राजीव रौथाण के अनुसार आरोपित का अपराधिक इतिहास पता किया जा रहा है।

------------------------------------------ 

हाथी दांत को मुख्यालय भिजवाया 

राजाजी टाइगर रिजर्व की गौहरी रेंज के अंतर्गत आपसी संघर्ष में मारे गए नर हाथी के शव को पोस्टमार्टम के बाद जंगल में ही दफना दिया गया है। गौहरी रेंज की कुनाऊं चौड़ ब्लॉक के जंगल में सड़क से करीब पांच किलोमीटर पहाड़ी क्षेत्र में बीते शनिवार को एक नर हाथी का शव वन विभाग की टीम ने बरामद किया था। मौके पर मिले निशानों को देखते हुए हाथी की मौत का कारण आपसी संघर्ष बताया गया था। हाथी का पेट फट गया था। 

रविवार को हरिद्वार रेंज से वरिष्ठ पशु चिकित्सक डॉ. अमित ध्यानी, राजा जी टाइगर रिजर्व से डॉ. ध्यानी के साथ वाइल्ड लाइफ सोसायटी के सदस्य विक्रम सिंह तोमर की टीम ने घटनास्थल का मौका मुआयना किया। चिकित्सक दल ने हाथी के शव का मौके पर पोस्टमार्टम किया। एक दांत वाले इस हाथी के दांत को सुरक्षित निकालकर राजाजी टाइगर रिजर्व मुख्यालय भिजवाया गया है। रेंज अधिकारी धीर सिंह ने बताया कि हाथी की शव को वहीं पर दफना दिया गया है। 

यह भी पढ़ें-हरिद्वार में महिला ने प्रेमी के साथ मिलकर की थी पति की हत्या, ऐसे हुआ मामले का पर्दाफाश

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें