देहरादून, जेएनएन। प्रदेश के 113 महाविद्यालयों में सोमवार को छात्रसंघ चुनाव करा लिए गए। इनमें अध्यक्ष व सचिव पद पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद और निर्दलीयों का दबदबा रहा। एनएसयूआइ को विद्यार्थी परिषद और निर्दलीय दोनों से चुनौती मिली। ज्यादातर कॉलेजों में एनएसयूआइ को तीसरे स्थान पर संतोष करना पड़ा। 

इसके उलट प्रदेश के सबसे बड़े दो महाविद्यालय डीएवी पीजी कॉलेज देहरादून में अभाविप को आपसी कलह के चलते 12 साल बाद हार का मुंह देखना पड़ा, जबकि कुमाऊं मंडल में स्थित एमबीपीजी कॉलेज हल्द्वानी में भी उसकी हार हुई।

राज्यभर के आंकड़ों के अनुसार अध्यक्ष पद पर अभाविप के 47 प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की। जबकि निर्दलीय व स्थानीय संगठनों के 46 व एनएसयूआइ के 19 प्रत्याशी जीते। सचिव पद पर अभाविप ने 34, एनएसयूआइ ने 15 पदों व निर्दलीयों ने 57 पदों पर जीत दर्ज की है। जबकि छह पद रिक्त हैं। 

प्रदेश के सरकारी एवं सहायता प्राप्त अशासकीय महाविद्यालयों में सोमवार को सुबह आठ बजे से दोपहर दो बजे तक मतदान हुआ। जिसमें एक लाख 30 हजार छात्र मतदाताओं में से अधिकतर ने अपने मताधिकार का प्रयोग कर अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सचिव, महासचिव सहित विवि प्रतिनिधि पदों के लिए चुनाव मैदान में उतरे प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला किया। 

एबीवीपी के प्रदेश संगठन मंत्री प्रदीप शेखावत ने दावा किया कि प्रदेश में करीब 70 फीसद महाविद्यालयों में उनके प्रत्याशी जीतने में कामयाब हुए हैं। जहां संगठन को सफलता नहीं मिली, वहां और मेहनत की जाएगी। एनएसयूआइ के प्रदेश अध्यक्ष मोहन भंडारी के मुताबिक 19 महाविद्यालयों में एनएसयूआइ के प्रत्याशियों ने अभाविप व अन्य संगठनों को हराकर जीत का परचम लहराया है।

उधर, प्रदेश में छोटे-छोटे छात्र संगठन आर्यन, सत्यम-शिवम, दिवाकर, जौनपुर ग्रुप व जय हो ग्रुप जैसे संगठनों ने अध्यक्ष व सचिव पदों पर जीत दर्ज की है। श्रीदेव सुमन विवि के कुलपति डॉ. यूएस रावत ने कहा कि विवि के सभी कॉलेजों में शांतिपूर्ण चुनाव हुए और दोपहर बाद परिणाम घोषित कर दिए गए। उच्च शिक्षा निदेशक डॉ. एससी पंत ने बताया कि मतदान सभी महाविद्यालयों में शांतिपूर्वक संपन्न हुआ है।

जानें कौन-कौन बने विजेता 

डीएवी पीजी कॉलेज

अध्यक्ष: निखिल शर्मा (निर्दलीय)

सचिव: नीरज चौहान  (सत्यम-शिवम)

डीबीएस पीजी कॉलेज

अध्यक्ष : मोहन प्रसाद (एबीवीपी)

सचिव : केशव प्रसाद (आर्यन)

एमकेपी कॉलेज

अध्यक्ष: मनीषा राणा (एबीवीपी) 

सचिव : अंकिता जगूड़ी (एबीवीपी) 

एसजीआरआर कॉलेज

अध्यक्ष : शुभम बंशल  (सक्षम) 

सचिव : विश्वनाथ रमन बड़ाकोटी (सक्षम)

रॉयपुर डिग्री कॉलेज

अध्यक्ष: तानिया कौशिक (निर्दलीय)

सचिव : एकता कुकरेती (निर्दलीय) 

यह भी पढ़ें: छात्रसंघ चुनाव का महासंग्राम: तो आमसभा नहीं शक्ति प्रदर्शन ही जीत का 'मूल मंत्र'

चप्पे-चप्पे पर तैनात रहा पुलिस बल 

रायपुर डिग्री कॉलेज, डीबीएस, एमकेपी, एसजीआरआर और डीएवी में कुल 110 प्रत्याशी अपना भाग्य आजमा रहे थे। जबकि 15,751 वोटर प्रत्याशियों ने प्रत्याशियों का भविष्य तय किया। पांचों कॉलेजों में मतदान के बाद शाम को परिणाम घोषित किए गए। बता दें कि डीएवी में 21 मतदान केंद्र बनाए गए थे। मतगणना टेबल को लोहे की जाली से कवर किया गया था। छात्र और छात्राओं के लिए अलग-अलग मतदान जोन निर्धारित किए गए थे। पांचों कॉलेज के चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात था। 

यह भी पढ़ें: छात्रसंघ चुनाव: एनएसयूआइ का प्रचार, लिंगदोह सिफारिशें फिर तार-तार 

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप