देहरादून, जेएनएन। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि प्रधानमंत्री की कुंडली में नहीं, बल्कि हरीश रावत की कुंडली में कालसर्प दोष है। ऐसे में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत अपनी कुंडली दिखवा लें। वहीं कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने भी हरीश रावत को घेरते हुए कहा कि हरीश रावत जाति से ठाकुर हैं, कुंडली देखना ब्राह्मणों का काम है। 

घंटाघर स्थित स्व. हेमवती नंदन बहुगुणा कांप्लेक्स में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान भाजपाइयों ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत पर जमकर हमला बोला। उल्लेखनीय है कि पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कुछ दिन पहले बयान दिया था कि बनारस से प्रियंका गांधी के चुनाव लड़ने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हार जाएंगे। उन्होंने प्रधानमंत्री की कुंडली में कालसर्प दोष की बात कही थी। 

पूर्व मुख्यमंत्री रावत ने बयान के साथ इस मामले में ट्वीट भी किया था। गुरुवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मीडिया से बातचीत में कहा कि विधानसभा चुनाव में दो-दो सीटों पर हार हरीश रावत देख चुके हैं। लोकसभा चुनाव में क्या होगा, यह कुछ दिन बाद जगजाहिर हो जाएगा। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने भी कहा कि दूसरों का योग नहीं, बल्कि वह अपना योग देख लें तो ठीक रहेगा। 

प्रधानमंत्री का रोड शो ऐतिहासिक: भट्ट

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वाराणसी में हुए रोड शो को ऐतिहासिक करार दिया। उन्होंने कहा कि इससे उनकी विजय तो तय हो ही गई है, विरोधियों के मुंह भी बंद हो गए हैं।

एक बयान में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री का रोड शो आशानुरूप सफल रहा। इस दौरान अपने प्रिय नेता की झलक पाने को लोग चार घंटे तक प्रतीक्षा करते रहे और उनके चेहरों पर शिकन भी नहीं आई। दूसरी ओर देश में करोड़ों लोगों ने टीवी व अन्य माध्यमों से इसका सजीव प्रसारण देखा। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता का प्रमाण है।

यह भी पढ़ें: लोकसभा चुनावः मतगणना की तैयारी शुरू, 12 सौ कार्मिकों की ड्यूटी

यह भी पढ़ें: परिसीमन के बाद 401 पंचायतों में होंगे त्रिस्तरीय चुनाव

यह भी पढ़ें: भाजपा ने लगाया आरोप, पीएम के खिलाफ तंत्रमंत्र पर उतरी कांग्रेस

Posted By: Bhanu

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस