जागरण संवाददाता, देहरादून। Uttarakhand Weather Update आने वाले दो दिनों में दून और मसूरी में बारिश से राहत के आसार हैं। मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्वानुमान के अनुसार 31 अगस्त व एक सितंबर को गढ़वाल मंडल और कुमाऊं के कुछ पहाड़ी क्षेत्रों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। मैदानी क्षेत्र में कहीं-कहीं हल्की बारिश हो सकती है।

उधर, सोमवार को दून और मसूरी में बादलों के बीच हल्की धूप रही। देर शाम को मसूरी में बूंदाबांदी हुई। इससे पहले रविवार मध्यरात्रि से सोमवार सुबह आठ बजे तक दून के सहसपुर क्षेत्र में सर्वाधिक 110 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई। इस दौरान प्रदेश में सबसे अधिक बारिश 120 मिलीमीटर कुमाऊं मंडल के बागेश्वर में हुई। एक जून 2021 से सोमवार शाम तक देहरादून में 1459.4 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की गई। दून का अधिकतम व न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री कम क्रमश: 29.4 व 22.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। जबकि इसी अवधि में मसूरी का अधिकतम व न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री कम 22.8 व 17.6 डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक आने वाले दो से तीन दिनों में उत्तराखंड में आमतौर पर मौसम साफ रहने की संभावना है।

50 से अधिक सड़कों पर यातायात बहाल, 135 सड़कें बंद

प्रदेश के कुछ जिलों में मौसम साफ होते ही सड़कों से मलबा हटाने का काम तेज हो गया। सोमवार को 50 से अधिक सड़कों पर यातायात बहाल हो गया। इसके अलावा बदरीनाथ और गंगोत्री हाईवे पर मरम्मत कार्य जारी है। हालांकि सड़कों पर लगातार गिर रहा मलबा चुनौती बना हुआ है। मलबा आने से 135 सड़कें बाधित हैं। इनमें सर्वाधिक 109 गढ़वाल मंडल में हैं।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश के बाद सड़कों को साफ करने का काम तेज हुआ है। ऋषिकेश से 38 किलोमीटर दूर टिहरी जिले में चंबा के पास गंगोत्री हाईवे की मरम्मत का काम जारी है। बीते शुक्रवार को यहां पर सड़क का 40 मीटर भाग बह गया था। फिलहाल वैकल्पिक मार्ग तैयार कर छोटे वाहनों की आवाजाही हो रही है। इसी जिले में देवप्रयाग के पास तोताघाटी में बंद बदरीनाथ हाईवे से भी मलबा हटाने का काम जारी है। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के प्रोजेक्ट इंजीनियर एएन द्विवेदी ने बताया कि मलबा हटाने का काम युद्धस्तर पर किया जा रहा है। उम्मीद है कि मंगलवार सुबह तक आवाजाही शुरू हो जाएगी।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड में आफत की बारिश, बदरीनाथ और गंगोत्री हाईवे समेत कुल 84 मार्ग बंद; धारचूला में बादल फटा

Edited By: Raksha Panthri