जागरण संवाददाता, देहरादून: उत्तराखंड में मौसम का मिजाज बदला हुआ है। शुक्रवार रात अंधड़ और बौछार के बाद शनिवार को ज्यादातर क्षेत्रों में आसमान साफ रहा, लेकिन पश्चिमी विक्षोभ के प्रदेश में दस्तक देने से अगले तीन दिन मौसम फिर बदल सकता है।

पहाड़ों पर बारिश और मैदानों में अंधड़ चलने के आसार

मौसम विभाग के मुताबिक, रविवार को ज्यादातर पर्वतीय क्षेत्रों में गरज के साथ बारिश होने और मैदानों में अंधड़ चलने के आसार हैं। इसे लेकर आरेंज अलर्ट भी जारी किया गया है।

शुक्रवार को दिनभर उमस के बाद शाम को अंधड़ के साथ मैदानी इलाकों में झमाझम बारिश हुई।

60 से 70 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चल सकता है अंधड़

देहरादून समेत अन्य मैदानी जिलों में 60 से 70 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चले अंधड़ में कई जगह पेड़ और विद्युत पोल गिर गए। इससे काफी नुकसान होने की सूचना है। वहीं, पर्वतीय क्षेत्रों में गरज के साथ बौछारें पड़ीं और कुछ स्थानों पर आकाशीय बिजली भी गिरी।

मंगलवार तक बदला रह सकता मौसम का मिजाज

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार प्रदेश में आज से मंगलवार तक मौसम का मिजाज बदला रह सकता है। ऐसे में उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में गर्जन के साथ बारिश हो सकती है। मैदानी इलाकों में अंधड़ के साथ बौछारों की आशंका है। इस दौरान 80 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं दुश्वारियां बढ़ा सकती हैं।

शनिवार को यह रहा प्रमुख नगरों का तापमान

  • नगर-------अधिकतम-------न्यूनतम
  • देहरादून-----36.6-------22.0
  • पंतनगर-----37.8-------24.9
  • हरिद्वार-----36.5-------23.5
  • मुक्तेश्वर----27.2-------10.4
  • नई टिहरी---28.8-------13.8
  • मसूरी--------27.4-------15.7
  • नैनीताल------27.8-------14.8
  • (तापमान डिग्री सेल्सियस में है)

नई टिहरी : बारिश नहीं होने से सूखे की स्थिति

टिहरी ज‍िले के कुछ जगहों पर बारिश बारिश हो रही है,लेकिन नई टिहरी व आस-पास की जगहों पर काफी समय से अच्छी बारिश नहीं हुई है। बीती शुक्रवार शाम को भी भिलंगना, नरेंद्रनगर, थौलधार में बारिश के साथ ही ओले भी गिरे से नई टिहरी सहित अन्य जगहों पर बारिश नहीं हुई है।

नई टिहरी में तड़के तेज आंधी चली आंधी से हालांकि नुकसान की सूचना नहीं है,लेकिन बारिश नहीं होने से नगरवासी परेशान हैं। नई टिहरी व आस-पास के क्षेत्रों पिछले कुछ दिनों से हवाएं तो काफी तेज चल रही है, लेकिन बारिश नहीं होने से यहां क्षेत्रवासियों को उमस का सामना करना पड़ रहा है।

इस बार पिछले कुछ दिनों से भिलंगना, नरेंद्रनगर प्रखंड में अच्छी बारिश हुई लेकिन अन्य जगहों पर बारिश नहीं होने से सूखे की स्थिति बनी हुई है। चंबा-मसूरी फलपट्टी के काश्तकार भी लंबे समय से बारिश का इंतजार कर रहे है। काश्तकार खुशीराम डबराल, रामप्रकाश डबराल का कहना है कि इस क्षेत्र में बारिश नहीं होने से सूखे की स्थिति बनी है।

Edited By: Sunil Negi