राज्य ब्यूरो, देहरादून। Uttarakhand Politics चुनावी साल में कांग्रेस ने पंजाब की तर्ज पर उत्तराखंड में भी प्रदेश संगठन में बड़े बदलाव पर मुहर लगा दी। पूर्व विधायक गणेश गोदियाल प्रदेश कांग्रेस के नए मुखिया होंगे। प्रीतम सिंह को प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाकर नेता प्रतिपक्ष की नई भूमिका सौंपी गई है। प्रो जीत राम, भुवन कापड़ी, पूर्व कैबिनेट मंत्री तिलकराज बेहड़ व पूर्व विधायक रंजीत रावत कार्यकारी अध्यक्ष बनाए गए हैं। आर्येंद्र शर्मा कोषाध्यक्ष बनाए गए हैं। पार्टी ने तीन सदस्यीय चुनाव प्रचार कमेटी की कमान पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस महासचिव हरीश रावत को सौंपी है।

उत्तराखंड में कांग्रेस विधायक दल के नए नेता और प्रदेश संगठन में बदलाव को लेकर इंतजार 26 दिन बाद खत्म हो गया। कांग्रेस हाईकमान ने चुनावी साल में उत्तराखंड में भी पंजाब फार्मूला अपनाया है। नए नेता प्रतिपक्ष के चयन के साथ प्रदेश अध्यक्ष को भी बदला गया है। बीती 13 जून को डा इंदिरा हृदयेश का निधन होने से नेता प्रतिपक्ष का पद रिक्त हो गया था। बीती 27 जून को नेता प्रतिपक्ष पद पर चयन को लेकर दिल्ली में बुलाई गई प्रदेश कांग्रेस विधायक दल की बैठक में संगठन में बदलाव की मांग भी उठी। मामला पेचीदा होने पर विधायक दल की बैठक में प्रस्ताव पारित कर इन दोनों पदों पर फैसला लेने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को अधिकृत किया गया था।

बीती 12 व 13 जुलाई को पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह, गणेश गोदियाल समेत प्रदेश के कई नेताओं ने अलग-अलग कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की थी। ये मुलाकात निर्णायक साबित हुई। तमाम स्तर पर लिए गए फीडबैक के बाद हाईकमान ने प्रदेश संगठन में भी बड़े बदलाव पर मुहर लगा दी। पार्टी नेतृत्व ने इस बदलाव को लेकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के नाते प्रीतम सिंह को सूचित कर दिया था। हालांकि देर शाम कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव संगठन केसी वेणुगोपाल ने नई नियुक्तियों के संबंध में पार्टी हाईकमान का आदेश जारी कर दिया।

कांग्रेस ने प्रदेश में कोषाध्यक्ष की नियुक्ति भी कर दी। आगामी चुनाव की दृष्टि से यह अहम नियुक्ति की गई है। पार्टी ने चुनाव प्रचार कमेटी भी घोषित कर दी है। इसके अध्यक्ष हरीश रावत हैं, जबकि उपाध्यक्ष राज्यसभा सदस्य प्रदीप टम्टा और संयोजक पूर्व कैबिनेट मंत्री दिनेश अग्रवाल बनाए गए हैं।

यह भी पढ़ें- काबीना मंत्री गणेश जोशी ने कहा- सरकार के कार्यों ने की विपक्ष की बोलती बंद