संवाद सहयोगी, रुद्रप्रयाग। केदारनाथ हाईवे पर सोनप्रयाग से गौरीकुंड के बीच पहाड़ी से पत्थर गिरने से एक तीर्थयात्री की मौके पर ही मौत हो गई है, जबकि तीन यात्री घायल हो गए है।

इस संबंध में जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी नंदन सिंह रजवार ने बताया कि गौरीकुंड हाईवे पर सोनप्रयाग-गौरीकुंड के मध्य पैदल चल रहे यात्रियों पर अचानक पहाड़ी से पत्थर गिरने से एक तीर्थ यात्री की मौके पर ही मौत हो गई और तीन घायल हो गए। घटना के बाद एसडीआरएफ की टीम द्वारा मौके पर पहुंचकर रेस्क्यू किया गया।

घायलों को स्वास्थ्य केंद्र सोनप्रयाग लाया गया, जहां उनका उपचार चल रहा है। दुर्घटना में राजस्थान बांसवाड़ा निवासी जयंती लाल खेतरा (50 वर्ष) की मौत हो गई। वहीं, मयूरी (30 वर्ष) पत्नी धर्मेंद्र निवासी अहमदाबाद गुजरात, अवन सिंह पुत्र मीर सिंह उम्र-59 वर्ष निवासी सुरहती, हरियाणा तथा विकास पुत्र वीरचंद्र उम्र-20 वर्ष नेपाल घायल हो गए।

चमोली में चट्ठान गिरने से एक व्‍यक्ति घायल

बदरीनाथ से कर्णप्रयाग की तरफ जा रहे यात्री वाहन ब्रेजा कार के ऊपर बाजपुर चाडा में पहाड़ी से पत्थर गिरे। इस हादसे में विपिन (26 वर्ष) पुत्र नरेंद्र कुमार मयूर बिहार दिल्ली को चोट लगी है। जिसको उसके स्‍वजन प्राइवेट वाहन से कर्णप्रयाग ले गए। इस वाहन में सवार सुमन (58 वर्ष) पत्नी नरेंद्र भी घायल हो गई। उसे नंदप्रयाग भिजवाया गया है। वाहन में सौरभ, नरेंद्र, पिंकी, परी आदि सवार थे, जो सुरक्षित हैं।

रायवाला : नदी नालों में उफान का खतरा बढ़ा, पुलिस अलर्ट मोड पर

देहरादून जनपद में सुबह से हो रही वर्षा के बाद नदी नालों में उफान का खतरा बढ़ गया है। इसको देखते हुए रायवाला पुलिस अलर्ट मोड़ पर है। पुलिस ने बाढ़ के खतरे वाले साहबनगर, गौहरीमाफी व हरिपुरकलां में वाहन लाउडस्पीकर के जरिए संदेश प्रसारित किया और सावधानी बरतने को कहा। पुलिस ने आम जनता को नदी नालों के किनारे न जाने की हिदायत दी।

थानाध्यक्ष भुवनचंद्र पुजारी ने बताया कि मौसम विभाग की ओर से जारी रेड अलर्ट के बाद सावधानी बरती जा रही है नदी नालों के किनारे रहने वाले लोगों को सचेत किया गया है कि वह नदी-नालों का रुख न करें। ऐसा करने से कोई भी अनहोनी हो सकती है। रायवाला क्षेत्र में सौंग नदी से साहबनगर, गौहरीमाफी, ठाकुरपुर तथा बरसाती नाले से हरिपुरकलां में बाढ़ आने का खतरा बना रहता है। हालांकि, अभी नदियों का जलस्तर मामूली रूप से बढ़ा है।

Edited By: Sunil Negi