राज्‍य ब्‍यूरो, देहरादून: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सलाहकार रहे भाष्कर खुल्बे को प्रदेश सरकार ने विशेष कार्याधिकारी नियुक्त किया है। वह केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के पुनर्निर्माण कार्यों पर निगरानी रखने के साथ ही इन प्रोजेक्ट को लेकर राज्य व केंद्र सरकार के मध्य समन्वयक की भूमिका निभाएंगे।

केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के पुनर्निर्माण कार्यों पर रखेंगे निगरानी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सलाहकार रहे भाष्कर खुल्बे अब उत्तराखंड सरकार में महत्वपूर्ण भूमिका में नजर आएंगे। उन्हें सरकार ने विशेष कार्याधिकारी (ओएसडी) नियुक्त किया है। वह केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के पुनर्निर्माण कार्यों पर निगरानी रखने के साथ ही इन प्रोजेक्ट को लेकर राज्य व केंद्र सरकार के मध्य समन्वयक की भूमिका निभाएंगे। इस संबंध में शासन ने आदेश जारी कर दिए हैं। उनकी इस पद पर नियुक्ति 28 फरवरी 2023 तक के लिए की गई है। सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने इसकी पुष्टि की।

केदारपुरी का पुनर्निर्माण कार्य प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल है। यही कारण भी है कि केदारपुरी एकदम नए कलेवर में निखर रही है। वहां वर्तमान में द्वितीय चरण के पुनर्निर्माण कार्य चल रहे हैं। प्रधानमंत्री के निर्देश पर राज्य सरकार ने केदारनाथ की भांति बदरीनाथ धाम को भी विकसित करने की महायोजना तैयार की। प्रधानमंत्री कार्यालय में इसका प्रस्तुतीकरण होने के बाद अब बदरीनाथ धाम में भी महायोजना के अनुरूप कार्य प्रारंभ कर दिए गए हैं।

कुमाऊं विश्वविद्यालय से परास्नातक खुल्बे 1983 बैच के हैं आइएएस

माना जा रहा है कि दोनों धामों में पुनर्निर्माण कार्यों को गति देने के उद्देश्य से ही भाष्कर खुल्बे को सरकार ने ओएसडी के रूप में तैनाती दी है। नैनीताल में पले-बढ़े और कुमाऊं विश्वविद्यालय से परास्नातक खुल्बे 1983 बैच के आइएएस हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री के सचिव और फिर सलाहकार के रूप में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी निभाई। कुछ समय पहले उन्होंने केदारनाथ धाम में पुनर्निर्माण कार्यों के साथ ही ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना के कार्यों का स्थलीय निरीक्षण भी किया था।

Edited By: Sunil Negi