जागरण संवाददाता, देहरादून। Uttarakhand Election 2022 उत्तराखंड में चुनावी सरगर्मियां चरम पर हैं। भाजपा-कांग्रेस के ज्यादातर प्रत्याशी घोषित होने के बाद कहीं-कहीं असंतोष के स्वर भी गूंज रहे हैं। देहरादून जिले की चकराता सीट पर दावेदार रहीं जिला पंचायत अध्यक्ष मधु चौहान के फेसबुक पोस्ट ने भी चर्चाओं का बाजार गर्म कर दिया है। उनके पोस्ट के कई राजनीतिक मायने निकाले जा रहे हैं, साथ ही निर्दलीय चुनाव लड़ने के भी कयास लग रहे हैं।

मधु चौहान ने रविवार को फेसबुक पर पोस्ट डाला कि कार्यकर्त्ताओं के आंसुओं का मान रखा जाएगा। जो तेजी से वायरल हुआ और पछवादून में राजनीतिक हलचल मच गई। हालांकि, उनके भाजपा छोड़ने और निर्दलीय चुनाव लड़ने को लेकर कोई पुष्ट सूचना नहीं थी, लेकिन सियासी गलियारों में पोस्ट के कई निहितार्थ निकाले जाने लगे। चर्चा थी कि चकराता सीट से टिकट की दावेदारी कर रहीं मधु चौहान टिकट न मिलने से नाराज हैं।

दरअसल, भाजपा ने पिछली बार चकराता से प्रत्याशी रहीं मधु चौहान के बजाय रामशरण नौटियाल को मौका दिया है। ऐसे में मधु चौहान की पोस्ट से उनके असंतुष्ट होने के कयास लगाए जा रहे हैं। यह भी चर्चा है कि वे चकराता से निर्दलीय लड़ सकती हैं। हालांकि, इस संबंध में मधु चौहान की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है और न ही उनके करीबी इसकी पुष्टि कर रहे हैं। बहरहाल, सियासी गलियारों में तरह-तरह की कयासबाजी का दौर जारी है।

चकराता सीट से भाजपा के टिकट पर मैदान में हैं रामशरण नौटियाल

भाजपा और कांग्रेस ने अपनी पहली सूची जारी कर दी है। एक ओर जहां भाजपा ने चकराता विधानसभा सीट से जुबिन नौटियाल के पिता रामशरण नौटियाल को मैदान में उतारा है। तो वहीं कांग्रेस ने नेता नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह को ही इस सीट से प्रत्याशी घोषित किया है।

यह भी पढ़ें- जानें- अभी किन सीटों पर कांग्रेस ने प्रत्याशी नहीं किए घोषित, कुछ में फंसा पेच; कुछ रणनीति के तहत रोकी

Edited By: Raksha Panthri