जागरण संवाददाता, देहरादून। Uttarakhand Coronavirus Update उत्तराखंड में कोरोना के मामले फिर बढऩे लगे हैैं। चिंता की बात यह भी है कि बुधवार को आए कुल मामलों में करीब 70 फीसद पहाड़ी जिलों से हैैं। सर्वाधिक मामले पौड़ी जनपद में मिले हैैं। यहां संक्रमण दर भी 3.5 फीसद रही। बताया गया कि संक्रमित मिले व्यक्तियों में अधिकतर पर्यटक थे, जिन्हें चेकपोस्ट से ही लौटा दिया गया। 

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार बीते 24 घंटे में निजी व सरकारी लैब से 19 हजार 187 सैैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है। इनमें 49 सैैंपल की रिपोर्ट पाजिटिव और 19 हजार 138 की निगेटिव आई है। वहीं, 33 मरीज स्वस्थ भी हुए हैैं। कोरोना से किसी मरीज की मौत नहीं हुई है। पौड़ी में सबसे अधिक 20 लोग संक्रमित मिले हैैं। देहरादून में दस लोग संक्रमित पाए गए हैैं। इसके अलावा उत्तरकाशी में पांच, पिथौरागढ़ में चार, हरिद्वार, ऊधमसिंह नगर व चंपावत में दो-दो और नैनीताल, अल्मोड़ा, बागेश्वर व चमोली में एक-एक व्यक्ति संक्रमित पाया गया है। रुद्रप्रयाग व टिहरी में संक्रमण का कोई नया मामला नहीं मिला है।

प्रदेश मेें अब तक कोरोना के तीन लाख 43 हजार 310 मामले आए हैैं। इनमें से तीन लाख 29 हजार 554 (95.99 फीसद) लोग कोरोना को मात दे चुके हैैं। राज्य में फिलवक्त 296 सक्रिय मामले हैैं। वहीं, कोरोना संक्रमित 7389 मरीजों की मौत हो चुकी है।

मोबाइल की लाइट में प्रसव मामले में स्पष्टीकरण तलब

टिहरी के प्रतापनगर ब्लॉक के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चौंड में महिला का प्रसव मोबाइल फोन की रोशनी में कराने के मामले में सीएमओ डा. संजय जैन ने चिकित्साधिकारी डा. आकाशदीप से स्पष्टीकरण तलब किया है। सीएमओ ने पूछा है कि जब अस्पताल में जेनरेटर था तो उसमें डीजल क्यों नहीं भराया गया था।

यह भी पढें- उत्तराखंड में चिकित्सकों की कमी बन रही है चुनौती, जानिए कितने पद चल रहे हैं खाली

Edited By: Raksha Panthri