राज्य ब्यूरो, देहरादून। Uttarakhand Assembly Session 2021 विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दूसरे दिन 10 दिसंबर को पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल गैरसैंण में उपवास व धरने पर बैठेंगे। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि गैरसैंण को लेकर भाजपा सरकार की असलियत सामने आ गई है। सरकार को सर्दी लगी तो गैरसैंण में शीतकालीन सत्र कराने का निर्णय स्थगित कर दिया गया।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कहा कि नौ दिसंबर से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र के दौरान पार्टी विधायक सदन में सरकार के खिलाफ मुद्दे उठाएंगे। वहीं 10 दिसंबर को वह पूर्व मुख्यमंत्री के साथ गैरसैंण में उपवास व धरने पर बैठेंगे। कौशिक पर लगाया धमकाने का आरोपउधर, पूर्व मुख्यमंत्री व प्रदेश कांग्रेस चुनाव अभियान समिति अध्यक्ष हरीश रावत ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक पर विपक्ष को धमकाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की पूर्व मंत्री यशपाल आर्य पर हमले को लेकर की गई टिप्पणी अनुचित है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष कौशिक ने आर्य पर हमले को लेकर कहा था कि 'जो जैसा बोएगा, वैसा ही काटेगा'।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बोले, माफी मांगे आम आदमी पार्टी

कांग्रेस ने आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रभारी की पूर्व मंत्री यशपाल आर्य पर टिप्पणी पर कड़ा रुख अपनाया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कहा कि आप प्रदेश प्रभारी को अपनी टिप्पणी के लिए राज्य के अनुसूचित जाति समाज से माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने सभी जिला व शहर इकाइयों को बुधवार को आम आदमी पार्टी का पुतला फूंकने के निर्देश दिए हैं।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोदियाल ने कहा कि आप पार्टी का उत्तराखंड विरोधी और अनुसूचित जाति विरोधी चेहरा बेनकाब हो गया है। इससे पहले आप की प्रवक्ता ने भी राज्य की जनता पर अभद्र टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा कि एक ओर अरविंद केजरीवाल उत्तराखंड की जनता को झूठे वायदे और सौगात से लुभाने का कार्य कर रहे हैं, दूसरी ओर आप के नेता देवभूमि की जनता का अपमान कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें- Uttarakhand Assembly Session: परिसर में नहीं आ सकेंगे विधायकों के सहयोगी और सुरक्षाकर्मी, सत्र की कार्यवाही का किया जाएगा वेबकास्ट

Edited By: Raksha Panthri