जागरण संवाददाता, हरिद्वार। Uttarakhand Assembly Elections 2022 भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि भाजपा संगठन में महिलाओं को विशेष आदर देती है। उन्होंने कहा कि इस बार 2017 से ज्यादा प्रतिनिधित्व महिलाओं को दिया जाएगा। इससे पहले उन्होंने ऋषिकुल मैदान से हरिद्वार विधानसभा की महिला मोर्चा की ओर से आयोजित स्कूटर रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने कहा चार दिसंबर को देहरादून में होने वाली विजय संकल्प महारैली को लेकर महिलाओं में खासा उत्साह है।

मदन कौशिक ने कहा कि महिलाओं को उचित सम्मान मिले, इसके लिए सरकार संकल्पित है। भाजपा संगठन में महिलाओं को विशेष आदर देती है। उन्होंने कहा कि इस बार 2017 से ज्यादा प्रतिनिधित्व महिलाओं को दिया जाएगा। उन्होंने प्रदेश की सभी बहनों माताओं को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की रैली में शामिल होने को आमंत्रित किया। पूर्व में चुनाव से पहले जो विधानसभा प्रभारी, संयोजक बनाए जाते थे, उनमें महिलाओं की भागीदारी 20 से 22 प्रतिशत ही होती थी।

पहली बार ऐसा हुआ है कि प्रत्येक विधानसभा में एक महिला को सहप्रभारी बनाया गया है। रैली में मध्य हरिद्वार मंडल अध्यक्ष मृदुल शास्त्री सिंघल, कनखल मंडल अध्यक्ष छवि त्यागी, हरिद्वार मंडल अध्यक्ष पूनम मखीजा, कार्यकारी मंडल अध्यक्ष अंजू वधवार, कामिनी सडाना, पार्षद मोनिका सैनी, एकता गुप्ता, विधानसभा सह प्रभारी सरिता सिंह, मंजू रावत, आभा शर्मा, ममता सैनी, वंदना गुप्ता, हेमलता जोशी, रेखा धस्माना, लीला, किरण, मीनू मित्तल आदि उपस्थित रहे।

तीर्थ पुरोहितों पर दर्ज मुकदमे वापस ले सरकार

चारधाम तीर्थ पुरोहित हक हकूकधारी महापंचायत ने देवस्थानम बोर्ड भंग किए जाने पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का आभार जताया। उन्होंने पूर्व में विधानसभा घेराव के दौरान तीर्थ पुरोहितों पर दर्ज हुए मुकदमों को भी वापस लेने की मांग की है। गुरुवार को बंजारावाला स्थित एक रेस्टोरेंट में तीर्थ पुरोहित हक हकूकधारी महापंचायत की बैठक हुई। महापंचायत के प्रवक्ता डा. बृजेश सती ने बताया कि तीर्थ पुरोहितों की भावनाओं को समझते हुए सरकार ने देवस्थानम बोर्ड भंग कर दिया है। बैठक में महापंचायत के अध्यक्ष पुरुषोत्तम उनियाल, उमेश सती, रजनीकांत सेमवाल, प्रवीण ध्यानी, कपिल शुक्ला आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें- पीएम मोदी कल दून में जनसभा को करेंगे संबोधित, सीएम धामी ने कार्यक्रम स्थल का लिया जायजा

Edited By: Raksha Panthri