राज्य ब्यूरो, देहरादून। Uttarakhand Assembly Elections 2022 आगामी विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने घोषणा पत्र, प्रत्याशियों के चयन, संसाधन जैसे तमाम विषयों पर माथापच्ची शुरू कर दी है। इस कड़ी में उत्तराखंड के दौरे पर आए केंद्रीय मंत्री और पार्टी के प्रदेश चुनाव प्रभारी प्रल्हाद जोशी ने गुरुवार को चुनाव प्रबंधन समिति, संसाधन, विशेष संपर्क व घोषणा पत्र विभागों की बैठक में विचार-विमर्श किया। जोशी ने कहा कि उत्तराखंड की सामाजिक, भौगोलिक परिस्थिति समेत सभी पहलुओं को समाहित कर पार्टी का चुनाव घोषणा पत्र तैयार किया जाएगा। भाजपा ने अगले हफ्ते से विशेष संपर्क अभियान के तहत हर विधानसभा क्षेत्र में समाज की दिशा और दशा तय में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले 50 से 100 प्रभावशाली व्यक्तियों से संपर्क करने का निर्णय लिया है। उनसे प्रदेश में फिर से भाजपा की सरकार बनाने में सहयोग का आग्रह किया जाएगा।

प्रदेश भाजपा कार्यालय में हुई बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में प्रदेश चुनाव प्रभारी जोशी ने कहा कि बैठक में चुनाव की दृष्टि से पूर्व में निर्धारित कार्यक्रमों के धरातलीय क्रियान्वयन, महा जनसंपर्क अभियान समेत कई विषयों पर चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि कार्यक्रमों को जमीनी स्तर तक पहुंचाने पर पार्टी का विशेष फोकस है। इसकी विधानसभा क्षेत्रवार समीक्षा भी की जा रही है। उन्होंने कहा कि पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्त्ताओं की भावनाओं को मन में रखते हुए कार्य किया जा रहा है। साथ ही विश्वास व्यक्त किया कि विधानसभा चुनाव में इस बार पार्टी 60 से अधिक सीटें जीतने के लक्ष्य को हासिल कर लेगी।

अगले हफ्ते से विशेष संपर्क अभियान

प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने बताया कि विशेष संपर्क अभियान के तहत प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में खास प्रभाव रखने वाले व्यक्तियों से सहयोग का आग्रह किया जाएगा। इसके साथ ही अगले हफ्ते से घर-घर संपर्क के लिए विशेष अभियान शुरू किया जा रहा है। कार्यकर्त्ताओं की टोलियां इस दौरान 'मेरा घर-कोरोनामुक्त घर' के संबंध में भी संपर्क करेंगी। साथ ही आमजन को जागरूक करेंगी।

चुनाव प्रबंधन समितियों का गठन 30 तक

कौशिक के अनुसार बैठक में निर्णय लिया गया कि राज्य के सभी जिलों में 30 नवंबर तक जिला चुनाव प्रबंधन समितियां गठित कर दी जाएंगी। इसके बाद विधानसभा क्षेत्रों में इसी तरह की समितियां गठित होंगी, ताकि प्रबंधन का कार्य बेहतर ढंग से चले।

विधानसभा क्षेत्रों में दावेदारों की परख

प्रदेश अध्यक्ष कौशिक के अनुसार प्रत्याशियों के चयन के मद्देनजर दावेदारों की परख के लिए सभी 70 विधानसभा क्षेत्रों में टीमें भेजी जा रही हैं। ये टीमें संभावित दावेदारों को जमीनी पकड़, छवि समेत अन्य बिंदुओं पर कसौटी पर परखेंगी और फिर अपनी सूची प्रदेश नेतृत्व को सौंपेगी। इसके बाद प्रत्याशियों का पैनल केंद्रीय नेतृत्व को भेजा जाएगा। पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि किसे टिकट दिया जाना है, किसे नहीं, इसका निर्णय पार्टी का केंद्रीय संसदीय बोर्ड लेगा।

ये नेता रहे बैठक में मौजूद

प्रदेश सह चुनाव प्रभारी सरदार आरपी सिंह व लाकेट चटर्जी, प्रदेश प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, विजय बहुगुणा, त्रिवेंद्र सिंह रावत व तीरथ सिंह रावत, प्रदेश महामंत्री संगठन अजेय कुमार, सांसद माला राज्यलक्ष्मी शाह व अजय टम्टा।

यह भी पढ़ें- Uttarakhand Elections 2022: पीएम मोदी का उत्तराखंड दौरा तय, चार दिसंबर को देहरादून में होगी जनसभा; कर सकते हैं बड़ी घोषणाएं

Edited By: Raksha Panthri