जागरण संवाददाता, देहरादून। कोरोना से जंग में सरकार की मदद को हाथ आगे आ रहे हैं। यूपीईएस ने ऐसी ही पहल कर ‘वी केयर’ के तहत प्रदेश सरकार को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भेंट किए। विवि ने मुख्यमंत्री से प्रदेश के दूरस्थ स्थानों तक पहुंचाने की अपील की। यूपीईएस के कुलपति डॉ. सुनील राय ने बताया कि विवि की ‘वी केयर’ पहल के तहत मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत, राज्य के सैन्य अस्पताल और राज्यपाल बेबी रानी मौर्य को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भेंट किए जा चुके हैं। उम्मीद है कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर सुदूर उत्तराखंड के गांवों, पहाड़ी इलाकों और राज्य के अस्पतालों में आपात स्थिति में काम आ सकें। बताया कि विवि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर प्रदान करने के साथ-साथ अपने परिसर के आसपास के गांवों में भी स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करा रहा है। उन्होंने कहा कि यह हमारी परीक्षा की घड़ी है और इस समय जरूरी है कि हर व्यक्ति एक-दूसरे की मदद के लिए आगे आए।

------------------------- 

सामान्य रोगों के मरीजों को उपचार व्यवस्था नहीं

मसूरी के उपजिला चिकित्सालय को कोविड अस्पताल बनाए जाने के बाद सामान्य रोगों के मरीजों को इलाज नहीं मिल पा रहा है। संक्रमण के कारण अन्य शहरों का रुख करने से मरीज बच रहे हैं। पूर्व पालिकाध्यक्ष ने सेंट मेरीज अस्पताल में आम मरीजों के लिए उपचार व्यवस्था की मांग स्थानीय प्रशासन से की है। पूर्व पालिकाध्यक्ष व कांग्रेस के प्रदेश महासचिव मनमोहन सिंह मल्ल का कहना है कि जब उपजिला चिकित्सालय को कोविड अस्पताल बनाया गया है तो कुलड़ी स्थित राजकीय सेंट मेरीज अस्पताल को पूर्व की भांति अन्य रोगों के इलाज के लिए खोल देना चाहिए और वहां पर चिकित्सकों की तैनाती की जानी चाहिए थी, लेकिन ऐसा नहीं किया गया है। जिससे समान्य रोगी परेशान है। ऐसे रोगी कोरोना संक्रमण के कारण देहरादून भी नहीं जा पा रहे हैं। ऐसे में वह अपना इलाज कैसे करवाएं। 

यह भी पढ़ें-पुलिस जरूरतमंदों की मदद कर दे रही है उन्हें नया जीवन , पढ़िए पूरी खबर

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें