देहरादून, राज्य ब्यूरो। Unlock 4.0 उत्तराखंड में जेईई, नीट, एनडीए, नेवल अकेडमी समेत अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के साथ ही विश्वविद्यालयों की परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों, युवाओं को राज्य सरकार ने राहत दे दी है। अनलॉक-4 की एसओपी में साफ किया गया है कि परीक्षार्थियों, अभिभावकों और शिक्षकों को क्वारंटाइन से छूट रहेगी। साथ ही कोराना जांच से संबंधित कोई प्रमाण भी उन्हें नहीं देना है। अलबत्ता, एक से दूसरे जिले में जाने के मद्देनजर उन्हें पंजीकरण अनिवार्य रूप से कराना होगा। वहीं, विदेश से आने वालों को 14 दिन क्वारंटाइन रहना होगा।  

सचिव आपदा प्रबंधन एसए मुरुगेशन के अनुसार परीक्षार्थियों, अभिभावकों और शिक्षकों को आवाजाही में दिक्कत न हो, इसके लिए परिवहन विभाग को व्यवस्था करने के लिए कहा गया है। जिला प्रशासन को भी इस संबंध में निर्देशित किया गया है। उन्होंने बताया कि एक-दो दिन में परिवहन विभाग अलग से इसकी एसओपी भी जारी करेगा।

30 सितंबर तक बंद रहेंगे स्कूल-कॉलेज 

राज्य के लिए जारी अनलॉक-4 की गाइडलाइन के अनुसार प्रदेश में सभी स्कूल कॉलेज, शिक्षण और कोचिंग संस्थान आगामी 30 सितंबर तक बंद रहेंगे। हालांकि, ये व्यवस्था दी गई है कि जिलों में कंटेंनमेंट जोन से बाहर के स्कूल-कालेजोंमें 50 फीसद शिक्षकों व शिक्षणेत्तर कर्मचारियों को काउंसलिंग, ऑनलाइन टेस्ट आदि के लिए स्कूल समय में बुलाया जा सकेगा। ये व्यवस्था 21 सितंबर से प्रभावी होगी। इसके अलावा कक्षा नौ और 12 के विद्यार्थियों और अभिभावकों को शिक्षकों से मार्गदर्शन के लिए स्कूल में मिलने की इजाजत होगी। 

कंटेनमेंट जोन के बाहर प्रतिबंध नहीं लगा पाएंगे डीएम 

गाइडलाइन में यह भी साफ किया गया है कि जिलों में कंटेनमेंट जोन से बाहर जिलाधिकारी किसी प्रकार का प्रतिबंध स्वयं नहीं लगा सकेंगे। यदि कहीं आवश्यक होगा तो इसके लिए संबंधित जिलाधिकारी सरकार से सलाह मशविरा करने के बाद ही कोई निर्णय ले पाएंगे। अंतरजनपदीय आवागमन को परमिट की जरूरत नहीं एसओपी के अनुसार राज्य में अंतरजनपदीय आवागमन के लिए कोई परमिट या अनुमति की जरूरत नहीं है। हालांकि, जो व्यक्ति एक से दूसरे जिले में यात्रा करेगा, उसे वेब पोर्टल पर पंजीकरण कराना होगा। उन्हें क्वांरटाइन से छूट दी गई है। 

विदेश से आने वालों को 14 दिन का क्वारंटाइन 

विदेशों से आने वाले व्यक्तियों को सात दिन संस्थागत और सात दिन होम क्वारंटाइन में रहना होगा। हालांकि, राज्य में विदेश से आने वाले व्यक्तियों को यहां पहुंचकर कनेक्टिंग फ्लाइट पकड़नी है, तो एयरपोर्ट पर उन्हें सात दिन के संस्थागत क्वारंटाइन से छूट मिलेगी। इसके लिए उन्हें 96 घंटे पहले तक की अवधि में हुई कोरोना जांच की नेगिटिव होने की रिपोर्ट प्रस्तुत करनी होगी। गंतव्य पर पहुंचने पर उन्हें सात दिन होम क्वारंटाइन में रहना पड़ेगा। इसके अलावा परिवार में मृत्यु, गर्भावस्था, गंभीर बीमारी, 65 साल से अधिक आयु के व्यक्तियों, 10 साल से कम आयु के बच्चों के अभिभावक और अवसाद में घिरे लोगों को संस्थागत क्वारंटाइन से छूट रहेगी। 

इन्हें 14 दिन होम क्वारंटाइन में रहना होगा। उद्योगों में दूसरे राज्यों से रोजाना आने वालों को भी छूट उत्तराखंड में स्थापित उद्योगों में कार्यरत श्रमिकों और कार्मिकों को भी प्रतिदिन उनके प्रदेश से आने-जाने के लिए छूट प्रदान करने की गई है। हालांकि, इसके लिए उन्हें पहले कंपनी की ओर से दिए गए अधिकार पत्र को पोर्टल पर अपलोड करना होगा। राजनेताओं, सरकारी अधिकारियों, न्यायपालिका के अधिकारियों-कर्मचारियों को भी क्वारंटाइन से छूट दी गई है। 

खुलेंगे होटल, बीएंडबी, होमस्टे और रेस्टोरेंट 

अनलॉक-4 की गाइडलाइन के अनुसार राज्य में सभी होटल, बीएंडबी (बेड एंड ब्रेकफास्ट), होमस्टे और हॉस्पिटेलिटी सेवाएं खुली रहेंगी। प्रदेश में आने के 96 घंटे पहले तक की अवधि में आरटी-पीसीआर टेस्ट में नेगिटिव पाए जाने वालों पर इनमें ठहरने की अनुमति होगी। इसके अलावा रेस्टोरेंट भी खुले रहेंगे।

शॉपिंग मॉल में खुलेंगी सभी दुकानें

शासन ने राज्य में सभी शॉपिंग मॉल खोलने का निर्णय लिया है। अब इनमें सभी दुकानें खुली रहेंगी। पहले एक दिन छोड़कर दुकानें खुल रहीं थीं। इसके अलावा यह भी तय किया गया है कि जिला प्रशासन और शॉपिंग मॉल प्रबंधन मिलकर शॉपिंग मॉल में प्रतिदिन ग्राहकों की अधिकतम संख्या का निर्धारण करेंगे। इसके अलावा राज्य में सभी बाजार भी खुले रहेंगे। हेली सेवा को Rapid एंटीजन टेस्ट उड़ान योजना के अंतर्गत सफर करने वाले दूसरे राज्यों के लोग का अनिवार्य रूप से Raoid एंटीजन टेस्ट होगा। यह टेस्ट देहरादून और ऊधमसिंहनगर के हेलीपैड पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के सहयोग से किए जाएंगे। 

खुलेंगे सभी धार्मिक स्थल

गाइडलाइन में शासन ने कंटेनमेंट जोन से बाहर प्रदेश में सभी धार्मिक स्थानों को खोलने की छूट दे दी है। जिला प्रशासन संबंधित बोर्ड, ट्रस्ट या प्रबंधन समितियों से चर्चा कर आवश्यक प्रतिबंध लगा सकते हैं। चारधाम के संबंध में चारधाम देवस्थान बोर्ड स्थानीय प्रशासन और हकहकूकधारियों से चर्चा के बाद आवश्यक प्रतिबंध लगा सकता है। 

बैंक्वट और कम्युनिटी हॉल भी खुलेंगे 

राज्य में सभी बैंक्वट हाल, कम्युनिटी हॉल समेत विवाह समारोह स्थलों को 20 सितंबर से खोलने का निर्णय लिया है। इनमें होने वाले प्रत्येक विवाह समारोह में अधिकतम सौ व्यक्ति ही भाग ले सकेंगे। विवाह समारोह में आने वाले व्यक्तियों को क्वारंटाइन से छूट रहेगी। हालाकि, हाई कोविड शहरों से आने वाले बिना लक्षण वाले दूल्हा, दुल्हन और उनके स्वजनों को भी इससे छूट रहेगी। इन्हें संबंधित बैंक्वेट और कम्युनिटी हॉल से बाहर जाने की इजाजत नहीं होगी।

यह भी पढ़ें: Uttarakhand Coronavirus News Update: उत्‍तराखंड में कोरोना के 664 नए मामले, सात संक्रमितों की मौत

कोरोना के लिहाज से हाई लोड वाले जिले 

राज्य, जिले 

दिल्ली- सभी जिले 

महाराष्ट्र- मुंबई, ठाणे, पुणे, रायगढ़, नासिक, नागपुर और जलगांव। 

तमिलनाडु- चेन्नई, 

कर्नाटक-बंगलुरू शहरी क्षेत्र 

तेलंगाना-हैदराबाद 

गुजरात-अहमदाबाद, 

पश्चिम बंगाल-कोलकाता और उत्तरी 24 परगना 

आंध्र प्रदेश- ईस्ट गोदावरी, वेस्ट गोदावरी, एसपीएस नेलौर, विशाखापटनम, चित्तूर, करनूल, गंटूर व अनंतपुर असम-कामरूप मेट्रोपोलिटन 

उत्तर प्रदेश- लखनऊ, गाजियाबाद, मेरठ, बिजनौर, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली और पीलीभीत

यह भी पढ़ें: Unlock 4.0: उत्तराखंड में अनलॉक-4 के लिए एसओपी जारी, जानें-क्या हुए बदलाव

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस