देहरादून, राज्य ब्यूरो। Unlock 3.0 शासन ने अनलॉक थ्री की मानक प्रचालन कार्यविधि (एसओपी) जारी कर दी है। इसके मुताबिक अब प्रदेश में प्रतिदिन बिना आरटी-पीसीआर जांच कराकर आने वाले दो हजार लोगों को आने की अनुमति दी जाएगी। हर जिले में जिलाधिकारी को अवसादग्रस्त या मानसिक रूप से परेशान 50 अतिरिक्त लोगों को अनुमति देने के लिए भी अधिकृत किया गया है।

गाइडलाइन में स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रमों के लिए स्वीकृति प्रदान करते हुए राज्य, जिला और तहसील स्तर पर कार्यक्रमों के आयोजन को दिशा निर्देश दिए गए हैं। प्रदेश में योग केंद्र और जिम खोलने को भी मंजूरी प्रदान कर दी गई है। कंटेनमेंट जोन में सभी  प्रकार की गतिविधियों को प्रतिबंधित किया गया है। इसके अलावा स्कूल कालेज, कोचिंग इंस्टीट्यूट, सिनेमा हॉल, स्वमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, बार और ऑडिटोरियम को खोलने पर पाबंदी बरकरार रखी गई है। 

मंगलवार को मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने अनलॉक थ्री की एसओपी जारी की। इसमे अनलॉक वन और अनलॉक टू के पुराने आदेशों को संक्रमित करते हुए नई व्यवस्था दी गई है। इसमें बाहर से आने वाले लोगों के संबंध में यह स्पष्ट किया गया है कि सभी को प्रदेश में आने से पहले स्मार्ट सिटी के वेब पोर्टल पर खुद को पंजीकृत करना अनिवार्य होगा। 

यह भी पढ़ें: हरिद्वार में 150 की जगह अब 19 दिन में डबल हो रहा है कोरोना, कंटेनमेंट जोन भी बढ़े

आवश्यक कार्यों जैसे परिवार में मृत्यु, गंभीर बीमारी, बुजुर्ग मां-बाप से मिलना आदि के लिए आने वालों को क्वारंटाइन से छूट रहेगी। इन्हें ठहरने वाले स्थान या घर से बाहर केवल इन्हीं कार्यों के लिए आने जाने की छूट रहेगी। इसके अलावा कहीं और आवागमन पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा। विभिन्न योजनाओं से जुड़े श्रमिक, कार्मिक, विशेषज्ञ, सलाहकार और सप्लायर आदि को क्वारंटान से छूट रहेगी हालांकि, उन्हें वेब पोर्टल पर अधिकार पत्र अपलोड करना होगा। इन्हें और सेना के अधिकारियों व कार्मिकों को प्रतिदिन आने वाले दो हजार लोगों में शामिल नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें: Coronavirus Effect: जेल में कोरोना से बचाव को कैदी पिएंगे हॉर्लिक्स, कर रहे योग; जानें- मैन्यू भी

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस