जागरण संवाददाता, देहरादून। स्मार्ट सिटी के तहत किए जा रहे निर्माण कार्यों की धीमी गति से नाराज व्यापारियों ने कांग्रेस के अनुसूचित जाति विभाग के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक राजकुमार की अगुआई में बुधवार को स्मार्ट सिटी कंपनी के कार्यालय को घेराव किया। इसके बाद व्यापारियों ने कार्यालय में मौजूद कंपनी के अधिकारियों को ज्ञापन सौंपकर कार्यो की गति बढ़ाने और जिन सड़कों पर कार्य पूरे हो चुके हैं, उनकी शीघ्र मरम्मत कराने की मांग की।

पूर्व विधायक राजकुमार ने बताया कि कोरोनाकाल में आम जनता और व्यापारी वर्ग को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा है। व्यापार बहुत सीमित हो गया है। ऐसे समय में राज्य सरकार को व्यापारियों को राहत देने के लिए नई योजनाएं लानी चाहिए थीं, लेकिन इसके विपरीत स्मार्ट सिटी के कार्यो के नाम पर व्यापारियों व आम जनता को परेशान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पलटन बाजार, डिस्पेंसरी रोड आदि क्षेत्रों में स्मार्ट सिटी के निर्माण कार्य अधूरे पड़े हैं। 

खोदाई से सड़कें और नालियां तो क्षतिग्रस्त हैं ही, सीवर व पेयजल लाइनें भी जगह-जगह टूट गई हैं। स्मार्ट सिटी के कार्यों से जाम की स्थिति भी पैदा हो रही है। चेतावनी दी कि शीघ्र उक्त समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो जनता के साथ धरना-प्रदर्शन किया जाएगा। घेराव करने वालों में कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा, महानगर व्यापार प्रकोष्ठ के अध्यक्ष सुनील कुमार बांगा, प्रवीण बांगा, शेखर कपूर, राहुल कुमार, शिवा सोनकर, नदीम बेग, प्रवीण अरोड़ा, रवि फुकेला आदि शामिल रहे। 

यह भी पढ़ें-जीएसटी के विरोध में 26 फरवरी को व्यापारियों का प्रदर्शन

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021