जागरण संवाददाता, देहरादून। प्रदेश सरकार की ओर से कोविड कर्फ्यू में ढील मिलने के बाद से पर्यटन को पंख लगने लगे हैं। मसूरी, धनोल्टी, चकराता व ऋषिकेश में होटलों में बुकिंग शुरू हो गई है। हालांकि, अभी बाहरी राज्यों से आने वाले पर्यटकों के लिए आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट व स्मार्ट सिटी पोर्टल पर पंजीकरण अनिवार्य है। इस कारण बाहरी पर्यटकों की संख्या सीमित है, लेकिन स्थानीय व्यक्तियों ने पर्यटन स्थलों का लुत्फ उठाना शुरू कर दिया है।

पर्यटन के लिहाज से यह सप्ताहांत भी पर्यटकों से गुलजार रहेगा। गुरुवार देर रात से हो रही बारिश के बाद शुक्रवार को मसूरी, धनोल्टी में पर्यटकों की भीड़ उमड़ पड़ी। जिसके चलते दिनभर में कई बार चंबा-मसूरी रोड व मसूरी माल रोड पर जाम की स्थिति बन गई। मसूरी के अधिकांश होटलों में 40 फीसद तक बुकिंग हो चुकी है। शनिवार व रविवार को पर्यटकों की संख्या बढ़ने की उम्मीद भी जगी है। इससे व्यापारियों के चेहरे पर मुस्कान तो आई है, लेकिन कोरोना संक्रमण के फैलने का खतरा भी बढ़ गया है।

चारधाम की जानकारी जुटा रहे पर्यटक

कोविड कर्फ्यू में ढील मिलने के बाद से देशभर के पर्यटक चारधाम यात्रा की जानकारी जुटा रहे हैं। चारधाम यात्रा पूछताछ केंद्र से मिली जानकारी के अनुसार चारधाम की यात्रा की जानकारी जुटाने के लिए दिनभर में 60 से 70 फोन आ रहे हैं। इनमें से कुछ लोग बुकिंग भी करवा रहे हैं। जो पर्यटक अक्टूबर में आना चाह रहे हैं, उनकी बुकिंग की जा रही है।

यह भी पढ़ें-इस वीकेंड मसूरी में खासी संख्या में पर्यटकों के पहुंचने की उम्मीद, होटलों में 40 प्रतिशत हो चुकी है बुकिंग

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Sunil Negi