देहरादून, राज्य ब्यूरो। उत्तराखंड के चारधाम की यात्रा पर आने वाले विदेशी श्रद्धालु इन धामों में पहुंचकर सीधे दर्शन करना चाहते हैं। लंदन के टूर ऑपरेटर्स ने इस प्रस्ताव को उत्तराखंड पर्यटन विभाग के साथ साझा किया है। इस पर जल्द ही शासन स्तर पर होने वाली बैठक में निर्णय लिया जाएगा। वहीं, इस बार मॉरिशस के 400 श्रद्धालुओं को सौ-सौ के जत्थे में चारधाम के दर्शन कराए जाएंगे। इन्हें पर्यटन विकास के आवास गृहों में ठहरने पर 30 प्रतिशत छूट भी दी जाएगी। 

चारधाम यात्रा के लिए लेकर प्रतिवर्ष देश-विदेश से लाखों तीर्थ यात्री उत्तराखंड पहुंचते हैं। साल 2013 में आई आपदा के बाद चारधाम यात्रा अब धीरे-धीरे परवान चढ़ रही है। विभाग के देश-विदेश में चारधाम यात्रा को लेकर किए जा रहे प्रचार का अब असर भी नजर आने लगा है। विदेशी श्रद्धालु अब यहां आने के इच्छुक हैं। कई विदेशी टूर ऑपरेटर बकायदा इसे पैकेज का हिस्सा बनाने का प्रयास कर रहे हैं। लंदन के कुछ टूर ऑपरेटर्स ने ऐसा ही एक प्रस्ताव विभाग को दिया है।
पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने बताया कि इन टूर ऑपरेटर्स प्रस्ताव है कि विदेशों से आने वाले यात्रियों के देहरादून में आते ही हेलीकॉटर से चारधाम के लिए ले जाया जाए और प्राथमिकता के आधार पर दर्शन कराकर वापस भेज दिया जाए। पर्यटन मंत्री ने कहा कि जहां तक विदेशी यात्रियों को चारधाम तक पहुंचाने का मसला है तो उस पर कोई आपत्ति नहीं है लेकिन प्राथमिकता के आधार पर दर्शन कैसे कराए जाएं, इस पर जल्द ही चर्चा की जाएगी। उन्होंने बताया कि जून में मॉरिशस से 400 श्रद्धालु बनारस आ रहे हैं। इनका चारधाम यात्रा में आने का भी कार्यक्रम हैं। 
इतने सारे श्रद्धालुओं को एक साथ चारधाम पर ले जाना संभव नहीं होगा, इसलिए इन्हें 100-100 के जत्थों में दर्शन के लिए ले जाया जाएगा। आयोग की अनुमति न मिलने के कारण नहीं हो पाई समीक्षा बैठक पर्यटन मंत्री ने बताया कि सोमवार को चारधाम यात्राओं की तैयारी को लेकर एक बैठक प्रस्तावित थी। इसके लिए निर्वाचन आयोग से अनुमति मांगी गई थी लेकिन आयोग ने अभी इसकी अनुमति नहीं दी है। इस बैठक में विभिन्न विषयों पर चर्चा की जानी थी। 
उन्होंने कहा कि यात्रा की तैयारियों संबंधी दिशा-निर्देश जारी करने के लिए बैठक जरूरी है। निर्वाचन आयोग से सभी जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक करने की अनुमति मांगी जा रही है। हेली सेवाओं संबंधी विवाद का जल्द निस्तारण होगा पर्यटन मंत्री ने कहा कि हेली सेवाओं को लेकर कोर्ट में जो भी वाद चल रहे हैं उनकी पुरजोर तरीके से पैरवी की जाएगी। सरकार का प्रयास रहेगा कि यात्रा शुरू होने से पहले सभी मसलों का निस्तारण कर लिया जाए और जो विसंगति है उन्हें दूर कर दिया जाए।
अब प्रचार को उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र और गुजरात जाएंगे महाराज 
पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज भाजपा के स्टार प्रचारकों में शुमार हैं। उन्होंने चुनाव प्रचार की शुरुआत 26 मार्च को उत्तर प्रदेश में बाराबंकी में आयोजित विजय संकल्प सभा से की। वह अभी तक उत्तर प्रदेश के मेरठ, गाजियाबाद, नोएडा, गाजीपुर के अलावा महाराष्ट्र के नागपुर, चंद्रपुर, गुजरात के अहमदाबाद, सुरेंद्र नगर, पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग, उत्तराखंड में रुड़की और पौड़ी गढ़वाल में भी चुनावी जनसभा को संबोधित कर चुके हैं। अब वह इसी माह उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र के अलावा अगले माह मध्यप्रदेश में चुनावी सभाओं को संबोधित करेंगे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस