देहरादून, जेएनएन। देहरादून में सोमवार को तीन खबरें चर्चा में रहीं। पहली, सोमवार को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में आयोजित 'परीक्षा पर चर्चा' कार्यक्रम को लेकर छात्र-छात्राओं में खासा उत्साह रहा। वहीं, बारिश और बर्फबारी के बाद उत्तराखंड कड़ाके की शीत की चपेट में है। चमोली के जोशीमठ और कुमाऊं के मुक्तेश्वर में पारा शून्य से नीचे है, जबकि टिहरी और अल्मोड़ा में न्यूनतम तापमान एक डिग्री सेल्सियस के करीब रहा। इधर, मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने कहा कि प्रदेश में चल रही तमाम विकास योजनाओं के सुचारू संचालन को जिलाधिकारी और मुख्य विकास अधिकारियों की भूमिका अहम है।

परीक्षा पर कितना ध्यान केंद्रित करें छात्र

सोमवार को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में आयोजित 'परीक्षा पर चर्चा' कार्यक्रम को लेकर छात्र-छात्राओं में खासा उत्साह रहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपने सवालों का जवाब जानने के लिए उनकी नजरें टीवी सैट पर गड़ी रहीं। बच्चों ने वीडियो क्लिप बनाकर अपने सवाल चर्चा के लिए भेजे थे। चर्चा में सबसे पहले अपने सवाल के शामिल होने से कोटद्वार की ब्लूमिंग वेल पब्लिक स्कूल में दसवीं के छात्र मयंक नेगी की खुशी का ठिकाना न रहा। मयंक ने प्रधानमंत्री से सवाल किया था कि अच्छे मार्क्स लाने के लिए परीक्षा पर कितना ध्यान केंद्रित करना चाहिए। इस पर पीएम से जवाब मिला, 'परीक्षा जीवन का एक पड़ाव है, संपूर्ण जीवन नहीं। परीक्षा को जिंदगी मानने वाली सोच से बच्चों के साथ ही अभिभावकों को भी बाहर आना होगा।' 

कड़ाके की शीत की चपेट में उत्तराखंड

बारिश और बर्फबारी के बाद उत्तराखंड कड़ाके की शीत की चपेट में है। चमोली के जोशीमठ और कुमाऊं के मुक्तेश्वर में पारा शून्य से नीचे है, जबकि टिहरी और अल्मोड़ा में न्यूनतम तापमान एक डिग्री सेल्सियस के करीब रहा। इस बीच बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री की चोटियों में हल्की बर्फबारी हुई, जबकि निचले स्थानों में बादल छाए रहे। वहीं, बर्फबारी से यमुनोत्री धाम में काफी नुकसान हुआ है। राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक मंगलवार को भी राज्य के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी का सिलसिला जारी रहेगा।

विकास में जिलाधिकारियों की भूमिका अहम

मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने कहा कि प्रदेश में चल रही तमाम विकास योजनाओं के सुचारू संचालन को जिलाधिकारी और मुख्य विकास अधिकारियों की भूमिका अहम है। जिलों में किए जा रहे अभिनव कार्यों को सभी के लिए नजीर बनाया जा सकता है। ऐसे कार्यों को ऑनलाइन उपलब्ध कराया जाए। सोमवार को सचिवालय में आइएएस वीके का उद्घाटन करते हुए मुख्य सचिव ने कहा कि राज्य ने राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनाई है। गवर्नेंस इंडेक्स में उत्तराखंड भारत वर्ष में 10 वें स्थान पर है। इस श्रेणी को और बेहतर करने के लिए सभी को मिशन मोड पर काम करना होगा। राज्य में पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं। ऐसे में प्रमुख मार्गों व पर्यटन स्थलों की स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिए जाने की जरूरत है। पहले सत्र में सचिव शिक्षा आर मीनाक्षी सुंदरम ने शिक्षा के क्षेत्र में किए जा रहे कार्यक्रमों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। 

यह भी पढ़ें: Top Dehradun News of the day, 15th January 2020: भारी बारिश और बर्फबारी की चेतावनी, झारखंड की उत्तराखंड पर 262 रनों की बढ़त, युवा कांग्रेस का सरकार पर हमला, आयुष्मान में सामने आई एक और खामी

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस