देहरादून, जेएनएन।  बाल दिवस का हर बच्चे को बेसब्री से इंतजार रहता है, दून में भी बच्चों ने बाल दिवस उल्लास के साथ मनाया। गांधी पार्क में बच्चों के लिए विशेष आयोजन किया गया वहीं विभिन्न स्कूलों, सामाजिक संस्थाओं में भी विभिन्न कार्यक्रम हुए। कार्यक्रम के दौरान नौनिहालों के चेहरे खिले नजर आए। बाल दिवस पर महिला एवं बाल विकास विभाग के तत्वावधान में बच्चों के लिए सर्वे चौक स्थित वर्किंग वूमेन हॉस्टल परिसर में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कर उनके अभिभावकों को उचित परामर्श कर दवाई वितरित की गई। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास विभाग की निदेशक झरना कामठान ने बताया कि बच्चों को पोष्टिक आहार के साथ अब आंगनबाड़ी केंद्रों में पीनट्स बटर वितरित किया जा रहा है। अब हर माह पांच तारीख को बटर वितरित किया जाएगा। इस अवसर पर उपनिदेशक सुजाता, जिला प्रोग्राम अधिकारी अखिलेश मिश्रा, एडिशनल सीएमओ डॉ वंदना सेमवाल, डॉ राम गोपाल शर्मा, डॉ अर्चना आदि उपस्थित थे।

रैफल होम में बच्चों को बांटे फल 

रैफल होम के बच्चों के साथ महिला एवं बाल विकास विभाग की निदेशक झरना कामठान ने बाल दिवस मनाया। इस अवसर पर खेल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया साथ ही जीतने वाले को पुरस्कृत किया गया। वहीं बच्चों को फल, किताबें, पैंसिल, कलर आदि वितरित किए गए।

चिल्ड्रन पार्क में बच्चों ने झूलों और टॉय ट्रेन का लिया मजा 

बाल दिवस पर बाल अधिकार सरंक्षण आयोग ने गांधी पार्क के चिल्ड्रन पार्क में बच्चों के लिए विशेष झूलों का आयोजन किया। इस दौरान आयोग की अध्यक्ष ऊषा नेगी के साथ शिशु निकेतन और राजकीय पूर्व उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के बच्चों ने फोटो खिंचवाए और विभिन्न झूलों और टॉय ट्रेन का आनंद लिया। इसी दौरान निर्धन बच्चे भी पार्क में झूला झूलने पहुंचे। इन बच्चों ने भी पार्क में खूब मस्ती की। इन बच्चों के नंगे पांव होने पर एक सवाल जरूर उठा कि विभाग ने इनकी सुध क्यों नहीं ली। जब इस संबंध में आयोग की अध्यक्ष से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि विभाग के पास फंड नहीं है वे इसका संज्ञान लेकर संबंधित विभाग से स्पष्टीकरण लेगा। उन्होंने कहा कि उन्होंने तो खुद बच्चों को पार्क के अंदर बुलाया है जिससे वे भी पार्क में मस्ती कर सकें। महिला एवं बाल विकास विभाग की निदेशक झरना कामठान ने इस संबंध में कहा कि बच्चे चप्पल पहनकर आए थे। बच्चों ने खेलते समय चप्पल उतार दी थी।

इस दौरान स्कूली बच्चों ने ताइक्वांडो का भी प्रदर्शन किया। इस अवसर पर महापौर सुनिल उनियाल गामा ने पेंटिंग प्रतियोगिता और विभिन्न स्पर्धाओं के विजेताओं को सम्मानित किया। दूसरी और बचपन बचाओ आंदोलन की टीम ने भी गांधी पार्क में बच्चों के साथ समय बिताया। इसके साथ ही उन्होंने मानव तस्करी पर रोक लगाने के लिए ठोस कानून बनाने, कक्षा 12वीं तक मुफ्त और अनिवार्य शिक्षा देने सहित अन्य मांगों को लेकर महापौर को ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर जिला प्रोबेशन अधिकारी मीना बिष्ट,बाल विकास परियोजना अधिकारी क्षमा बहुगुणा, बाल आयोग सदस्य शारदा त्रिपाठी, अनुसचिव डॉ रोशनी सती, निदेशक चाइल्ड लाइन डॉ पी आदिति कौर, जिला कार्यक्रम अधिकारी डॉ अवधेश कुमार मिश्रा, क्षेत्राधिकारी शेखर सुयाल आदि मौजूद थे।

नेहरू हैं न्यारे, बच्चों के  प्यारे

देश के प्रथम प्रधानमंत्री पं. जवाहर लाल नेहरू की जयंती पर अखिल भारतीय नेहरू ब्रिगेड की ओर से बाल समारोह आयोजित किया गया। समारोह में नन्हे मुन्ने बच्चों ने रंगारंग कार्यक्रम पेश किए। रेसकोर्स रोड स्थित पुरानी जेल में आयोजित बाल समारोह उद्घाटन राम कुमार वालिया और संतराम शर्मा ने पं. नेहरू की मूर्ति पर पुष्प अर्पित कर किया। इस अवसर पर विभिन्न स्कूलों के बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी। बच्चों ने नेहरू हैं न्यारे कविता सुनकर चाचा नेहरू को याद किया। उसके बाद हम होंगे कामयाब, ऐ मेरे वतन के लोगों आदि गीत प्रस्तुत कर वाहवाही लूटी। कार्यक्रम में अल्पिता, सृष्टि, आराध्या, अमन, आशीष, शिवम, अरुण, सहयुक्ता, परी, ऋतिका, शिल्पी, माही, सौम्या, प्राची, शिवदत्त, वेदांत आदि बच्चों ने प्रस्तुति दी। समारोह में बच्चों को कॉपी, पेन वितरित किए गए। कार्यक्रम का संचालन अल्पना जदली ने किया। इस अवसर पर महेंद्र डंगवाल, कविता, अशोक वर्मा, लालचंद्र शर्मा, विजेंद्र प्रताप सिंह, तारा सिंह, गोवर्धन शर्मा आदि मौजूद थे।

मानस संस्था ने मनाया बाल दिवस

बाल दिवस पर मानस संस्था की ओर से जरूरतमंद बच्चो को पेन, पेंसिल और खाद्य सामग्री बांटी गई। डालनवाला में संस्था के कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में संस्था की अध्यक्ष विभा कपूर ने कहा कि बाल दिवस पर संस्था ने बच्चों के लिए विशेष कार्यक्रम आयोजित किया।  इसमें खेल प्रतियोगिता आयोजित कर बच्चों को पुरस्कृत भी किया गया। कार्यक्रम में आभा शर्मा, निशा ठाकुर, मंजू जैन, सरिता घई, मनु मल्होत्रा, स्वाति, मंजू नैयर, नीतू सूरी आदि मौजूद थे।

संस्थानों में धूमधाम से मना बाल दिवस

उत्तरांचल पीजी कॉलेज ऑफ बायोमेडिकल सांइसेज एंड हॉस्पिटल में बाल दिवस पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। अस मौके पर छात्रों ने पारंपरिक व्यंजनों स्टॉल लगाए। आगंतुकों ने पहाड़ी व्यंजनों को खूब पसंद किया। इसके अलावा छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से भी समा बांधा। संस्थान के प्रबंध निदेशक जीडीएस वार्ने ने छात्रों को बाल दिवस की शुभकामनाएं दीं और पुरस्कार प्रदान किए। उधर, सोशल बलूनी पब्लिक स्कूल ने अपने छात्रों को शहर के ऐतिहासिक संस्थानों व प्रमुख स्थानों का भ्रमण कराया। इसके तहत बच्चों को भारतीय वन अनुसंधान संस्थान, वन्यजीव संस्थान, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम, पुलिस कंट्रोल रूम आदि का भ्रमण कराया गया। इस दौरान स्कूल के प्रबंध निदेशक विपिन बलूनी ने बच्चों को बाल दिवस की महत्ता बताई।

वहीं, दून हेरिटेज स्कूल में बाल दिवस पर पंडित नेहरू को श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर स्कूली बच्चों ने विभिन्न रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए। कार्यक्रम में प्रधानाचार्य मीनाक्षी सोती, वेंटेज हॉल की प्रधानाचार्य नीता नायडू, रोहित सोती आदि उपस्थित रहे। साईग्रेस ऐकेडमी में भी बाल दिवस पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए। इस दौरान विद्यालय प्रांगण में आयोजित बाल मेले का छात्र-छात्राओं ने जमकर लुत्फ उठाया। स्कूल के प्रबंधक समरजीत सिंह ने बताया कि मेले में खाद्य पदार्थों व विभिन्न खेलों के स्टॉल लगाए गए। उधर, फन एंड फूड किंगडम अम्यूजमेंट पार्क में बाल दिवस मनाया गया। इस मौके पर यहां आए बच्चों ने झूलों और वाटर पार्क में खूब मौज-मस्ती की। पार्क की ओर से इस पूरे सप्ताह यहां एंट्री फीस में भारी डिस्काउंट दिया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: Children's Day 2019: पुरानी जेल में चाचा नेहरू की बगिया से गुलाब गायब, जानें- इसका इतिहास

दून अस्पताल ने बाल दिवस पर दिया सरप्राइज

दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल के बाल रोग विभाग में चिकित्सक को दिखाने पहुंचे बच्चों को बाल दिवस का सरप्राइज दिया गया। इस दौरान चिकित्सकों व स्टाफ की ओर से रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसके अलावा बच्चों ने भी प्रस्तुति दी। वहीं, चित्रकला प्रतियोगिता में भी बच्चों ने अपनी प्रतिभा दिखाई। प्राचार्य डॉ. आशुतोष सयाना, चिकित्सा अधीक्षक डॉ. केके टम्टा और डिप्टी एमएस डॉ. एनएस खत्री ने विजेताओं को पुरस्कृत किया। विभागाध्यक्ष डॉ. तन्वी सिंह ने सभी का आभार जताया। इस दौरान डॉ. तन्वी खन्ना, डॉ. आयशा इमरान, डॉ. वसुधा तोमर, डॉ. प्रमिला, डॉ. भावना, डॉ. मयंक नौटियाल, डॉ. श्वेता, डॉ. शैलजा, डॉ. शिप्रा, काउंसलर निधि काला, वरिष्ठ जनसंपर्क अधिकारी महेंद्र भंडारी, चीफ फार्मेसिस्ट सुधा कुकरेती आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: बचे हुए पन्नों से बच्चों ने बनाईं दौ सौ कॉपियां, पढ़िए पूरी खबर

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप