जागरण संवाददाता, ऋषिकेश: टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड (टीएचडीसीआइएल) द्वारा केरल के कासरगॉड में तैयार की 50 मेगावाट की पहली सौर विद्युत परियोजना शुक्रवार को जनता को समर्पित कर दी गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग  के माध्यम से इसका लोकार्पण किया।

टीएचडीसीआइएल के उप महाप्रबंधक (कारपोरेट संचार) डॉ. एएन त्रिपाठी ने बताया कि कंपनी ने कासरगॉड सौर पार्क में अपनी पहली 50 मेगावाट की सौर फोटोवोल्टिक पीवी विद्युत परियोजना का विकास करने के साथ केरल सरकार के 105 मेगावाट की क्षमता के सौर विद्युत कार्यक्रम में अहम योगदान दिया है। यह परियोजना, केरल राज्य बिजली बोर्ड लिमिटेड के स्तर से उपलब्ध कराई गई 250 एकड़ भूमि पर विकसित की गई है। परियोजना में 165149 मल्टी क्रिस्टिलाइन सौर पीवी मॉडयूल हैं, जो स्वच्छ ऊर्जा के रूप में 100.56 मिलियन यूनिट का उत्पादन कर रहे हैं। इससे 3.10 रुपये प्रति यूनिट की दर पर केरल राज्य की विद्युत आवश्यकताओं को पूरा किया जाएगा। इसके लिए टीएचडीसीआइएल और केएसईबी के मध्य विद्युत क्रय करार पर हस्ताक्षर भी किए गए। 

यह भी पढ़ें-  कोरोना काल के सबक भूले, नहीं दिख रही एहतियात; कहीं महाराष्ट्र जैसे हालात न पैदा कर दे ये बेफिक्री

उन्होंने बताया कि केरल के राज्यपाल आरिफ मौहम्मद खान, मुख्यमंत्री पिनारयी विजयन, राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) विद्युत एवं नवीन तथा नवीकरणीय ऊर्जा आरके सिंह, केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, बिजली मंत्री केरल सरकार एमएम मणि, सांसद शशि थरूर व सचिव (विद्युत) भारत सरकार आलोक कुमार वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के माध्यम से लोकार्पण कार्यक्रम में शामिल हुए।

यह भी पढ़ें- कोरोना काल के सबक भूले, नहीं दिख रही एहतियात; कहीं महाराष्ट्र जैसे हालात न पैदा कर दे ये बेफिक्री

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Sumit Kumar