देहरादून, जेएनएन। देहरादून रेलवे स्टेशन के बाहर बना टैक्सी स्टैंड अब नहीं हटेगा। टैक्सी यूनियन ने रेलवे को 2015 से अभी तक के बकाये किराये का भुगतान कर दिया है। इसके साथ ही यार्ड रिमॉडलिंग कार्य के बाद टैक्सी यूनियन प्रतिमाह किराये का भुगतान करने के लिए भी तैयार है। 

बीते 12 अक्टूबर को मुरादाबाद मंडल के डीआरएम तरुण प्रकाश ने रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया था। इस दौरान उन्होंने स्टेशन के बाहर बने टैक्सी बुकिंग बूथ और स्टैंड को हटाने के लिए स्टेशन प्रबंधन को निर्देश दिए थे। टैक्सी यूनियन 2015 से स्टैंड का किराया रेलवे को नहीं दे रही थी, स्टैंड को हटाने के पीछे एक यह भी कारण था। उस दौरान डीआरएम ने कहा था कि अगर टैक्सी यूनियन स्टैंड का सशर्त भुगतान नहीं करती है तो प्रशासन की मदद से रेलवे की जमीन को खाली कराया जाए। लेकिन गुरुवार को टैक्सी यूनियन ने 2015 से अभी तक का भुगतान कर दिया है।

देहरादून स्टेशन के निदेशक गणेश चंद ठाकुर ने बताया कि टैक्सी यूनियन ने 2015 से अभी तक का बकाया 610827 रुपये का भुगतान कर दिया है। इसके अलावा टैक्सी यूनियन यार्ड रिमॉडलिंग कार्य पूरा होने के बाद प्रति माह किराये के भुगतान को तैयार है। उन्होंने बताया कि रेलवे स्टेशन के बाहर टैक्सी स्टैंड होने से यात्रियों को तो सुविधा मिलती ही है। इसके अलावा रेलवे को भी राजस्व मिलता है। हालांकि अभी इस संबंध में रेलवे डिविजन से अनुमति ली जाएगी। जल्द ही फाइल डिविजन को भेज दी जाएगी। 

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में कुल 27 लाख वाहन, यातायात कर्मी महज 674

हर्रावाला स्टेशन पर शुरू हुआ त्वरित काउंटर 

मेगा ब्लॉक के दौरान शताब्दी और नंदा देवी एक्सप्रेस हर्रावाला स्टेशन से चल रही हैं। ऐसे में स्टेशन पर यात्रियों की सुविधा के लिए त्वरित आरक्षण काउंटर लगाया गया है। जहां यात्री ट्रेन के समय से आधा घंटा पहले तत्काल टिकट कटवा सकते हैं।

यह भी पढ़ें: दून में ऑटो चालक ज्यादा किराया मांगे तो 112 नंबर पर कीजिए डायल Dehradun News

Posted By: Raksha Panthari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप