देहरादून, [जेएनएन]: दून में शरीर में टैटू बनाना युवाओं की लाइफ स्टाइल का एक अहम हिस्सा बन गया है। युवाओं की दीवानगी का आलम यह है कि वे आकर्षक टैटू के डिजाइन के लिए हजारों रुपये तक खर्च करने को तैयार हैं। 

देहरादून में युवाओं में टैटू को लेकर प्रतिदिन क्रेज बढ़ता जा रहा है। दून के एक बड़े टैटू व्यवसायी ने बताया कि युवाओं में टैटू का शौक पिछले दो सालों में तेजी से बढ़ा है। उन्होंने बताया कि युवाओं में ट्रैवल टैटू की खासी डिमांड है। इसमें शिवाय लोगो, महापा, लव सिंबल, नेम, स्टार, फ्री टैटू ज्यादा पसंद किए जाते हैं। वहीं, थीम बेस्ड टैटू भी खासे पसंद किए जाते हैं। 

लड़कियां खासकर ट्रैवल टैटू में बड्र्स, बटरफ्लाई, लव सिंबल, नेम अल्फाबेट्स की डिमांड करती हैं। उन्होंने बताया कि परमानेंट टैटू के लिए युवा हजारों रुपये खर्च करने को तैयार रहते हैं। इनका रेट प्रति इंच व हार्ड डिजाइन के अनुसार निर्धारित होता है। इसके अलावा टेंपरेरी टैटू भी बनाए जाते हैं। ये टैटू सात से 10 दिन तक बने रहते हैं। इसलिए शौक पूरा करने के लिए टेंपररी टैटू बेहतर विकल्प है।

यह बरतते हैं सावधानियां

शरीर में टैटू बनाने के बाद उस हिस्से को एक घंटे के लिए बैंडेज से ढका जाता है। इसके बाद दस दिन तक इस हिस्से में जैल लगाया जाता है और इसे पानी से बचाना होता है क्योंकि पानी पड़ने से टैटू का रंग फीका पड़ता है।

यह हैं टैटू के रेट

परमानेंट टैटू - 600- 10,000

टेंपररी टैटू  -  300- 2,000

यह भी पढ़ें: गर्मियों में पहने इस तरह के कपड़े और खुद को रखें कूल-कूल

यह भी पढ़ें: बदलते वक्त के साथ बदलता है फैशन का अंदाज

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप