जागरण संवाददाता, देहरादून:

हाईकोर्ट के आदेश पर शहर में शुक्रवार को 72 अतिक्रमण पर प्रशासन ने जेसीबी चलाकर ध्वस्तीकरण की कार्रवाई की। इस दौरान 287 पुराने अतिक्रमण को चिह्नित किया गया। साथ ही 106 भवनों स्वामियों को नियम विरुद्ध किए गए निर्माण पर नोटिस जारी किए गए। इधर, शनिवार को अतिक्रमण पर हुई दूसरे चरण की कार्रवाई थम जाएगी। हाईकोर्ट में रिपोर्ट पेश करने के बाद ही आगे कार्रवाई पर निर्णय होगा।

हाईकोर्ट ने जून 2018 में शहर में हुए अतिक्रमण हटाने के कड़े आदेश जारी किए थे। इस पर प्रशासन ने टास्क फोर्स गठित कर करीब तीन माह तक ताबड़तोड़ कार्रवाई की गई। लेकिन इसके बाद इन्वेस्टर्स समिट, लोकसभा चुनाव एवं अन्य व्यस्तता के चलते अभियान बीच में छोड़ दिया था। अभियान स्थगित होते ही लोगों ने दोबारा अतिक्रमण करना शुरू कर दिया। प्रेमनगर में हटाए गए अतिक्रमण की जगह पूरा बाजार तैयार हो गया। इसी तरह चकराता रोड, हरिद्वार रोड, रायपुर रोड, नेशविला, कालीदास रोड आदि में भी अतिक्रमण हुआ है। हाईकोर्ट ने फिर संज्ञान लिया तो टास्क फोर्स ने औपचारिकता के लिए इस बार अभियान शुरू किया। अभियान के दौरान राजपुर में कुछ जगह छोड़ पुराने इलाकों में ही अतिक्रमण हटाया गया। जहां पिछले साल अतिक्रमण हटाया गया, वहां दोबारा अतिक्रमण हो गया था। जबकि हाईकोर्ट ने मॉनिटरिग के निर्देश दिए थे। शुक्रवार को भी टास्क फोर्स ने ईसी रोड और हरिद्वार रोड पर करीब 72 अतिक्रमण ध्वस्त किए गए। यहां पहले भी अतिक्रमण हटाया जा चुका था। बहरहाल पंचायत चुनाव के चलते आज अभियान थम जाएगा। इसके बाद कोर्ट के निर्देश पर ही दोबारा अभियान शुरू हो पाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस