जागरण संवाददाता, देहरादून। Subhash Chandra Bose Jayanti 2021 नेताजी सुभाष चंद्र बोस के 125वें जन्मदिवस पर शहर में विभिन्न सामाजिक, राजनीतिक संगठनों ने उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। शनिवार मातृभूमि परिवार की ओर से उत्तरांचल प्रेस क्लब में कार्यक्रम आयोजित किया गया। मुख्य अतिथि बार काउंसिल ऑफ उत्तराखंड के अध्यक्ष सुरेंद्र पुंडीर ने कहा कि वर्तमान में युवाओं को महापुरुषों को याद कर उनके संदेश के बारे में गहन अध्ययन करना चाहिए। 

विशिष्ट अतिथि सुनील अग्रवाल और मुख्य वक्ता उमा सिसोदिया ने कहा कि युवाओं को सुभाष चंद्र बोस के चरित्र से प्रेरणा लेकर राजनीति में आना चाहिए। इस दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रम के तहत कलाकारों ने नृत्य, गायन के जरिये देशभक्ति का संदेश दिया। इस मौके पर मातृभूमि परिवार के अध्यक्ष  हितेश सिंह, अभिजीत यादव, श्रुति जायसवाल, निधि, शैलेंद्र गुप्ता, रचित, आशीष तोमर, अनिकेत, अभिषेक सिंह, जगमोहन आदि मौजूद रहे। उधर, गढ़ी कैंट स्थित दून योगपीठ की ओर से आयोजित कार्यक्रम में योगाचार्य बिपिन जोशी ने सभी से तीन माह में एक बार रक्तदान करने की अपील की। 

शिवसेना कार्यकर्ताओं ने खाद्य सामग्री बांटी 

सुभाष चंद्र बोस और बालासाहेब ठाकरे के जन्मदिवस को कार्यकर्ताओं ने संकल्प दिवस के रूप में मनाया। गोविंदगढ़ स्थित मुख्यालय में कार्यकर्ताओं ने विभिन्न क्षेत्रवासियों को खाद्य सामग्री बांटी। इस मौके पर अध्यक्ष गौरव कुमार, जिला प्रमुख अमित कर्णवाल, विकास मल्होत्रा, रोहित बेदी, नितिन कुमार, विकास सिंह, निशा मेहरा, राम अवतार गुप्ता आदि मौजूद रहे। 

बंगाली महासभा ने दी श्रद्धांजलि

आराघर स्थित कार्यालय में उत्तराखंड बंगाली महासभा से जुड़े सदस्यों ने सुभाष चंद्र बोस को श्रद्धांजलि दी। इस दौरान बच्चों ने देशभक्ति गीत, कविता और वीरों के बलिदान का स्मरण सुनाया। महासभा के प्रदेश प्रमुख अधीर मुखर्जी, एके बोस, दीपक मुखर्जी, पीबी घोष, अभय दत्ता, कल्याण, मधुमिता दास, स्वामी भट्टाचार्य आदि मौजूद रहे। 

यह भी पढ़ें- Subhash Chandra Bose Jayanti 2021: नेताजी के साथ दून के साधु सिंह बिष्ट ने लड़ी आजादी की जंग, कई बार गए जेल

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप