संवाद सूत्र, चकराता: गुलाब ¨सह राजकीय महाविद्यालय चकराता में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने परचम लहराया। 234 में से 227 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। 97 प्रतिशत मतदान से वोटरों के उत्साह का अंदाजा स्वत: ही लगाया जा सकता है। कार्यकारिणी सदस्य एनएसयूआइ की प्रियंका को छोड़ अन्य सभी पदों पर एबीवीपी समर्थित प्रत्याशी विजयी रहे। प्राचार्य ने विजयी प्रत्याशियों को शपथ दिलाई। चुनाव डीएम द्वारा नियुक्त चुनाव पर्यवेक्षक बीके भट्ट के समक्ष हुआ।

चकराता महाविद्यालय प्राचार्य डॉ. सोहन लाल भट्ट व चुनाव अधिकारी डॉ. अर¨वद वर्मा ने चुनाव परिणाम घोषित करते हुए बताया कि अध्यक्ष पद पर एबीवीपी समर्थित स्मिता ने 127 वोट मिले, जबकि एनएसयूआइ की दिव्या राणा को 95 मत पर संतोष करना पड़ा, नोटा एक व चार मत निरस्त हो गए। स्मिता ने प्रतिद्वंद्वी को 32 वोटों से हराया। उपाध्यक्ष पद पर एबीवीपी समर्थित आचंल चौहान ने 107 वोट लिए, जबकि अरवीना चौहान को 101 मत मिले। दो नोटा व 17 मत निरस्त किए गए। आंचल ने प्रतिद्वंद्वी को छह मतों से हराया। कोषाध्यक्ष पद पर शोभा चौहान को 107 मत मिले, जबकि ¨पकी को 99 मत मिले। एक नोटा व बीस मत निरस्त रहे। शोभा ने प्रतिद्वंद्वी को छह मतों से हराया। सचिव पद पर मोनिका तोमर ने 141 मत प्राप्त किए, जबकि सपना को 82 मत मिले, इस पद पर चार मत निरस्त किया गया। मोनिका ने प्रतिद्वंद्वी को 61 मतों से हराया। सहसचिव पद पर नेहा रावत 135 मत मिले, अंकिता को 81 मत पर संतोष करना पड़ा। एक नोटा व दस निरस्त हो गए। नेहा ने 54 मतों से परास्त किया। विश्वविद्यालय प्रतिनिधि के पद पर दिव्या रावत ने 73 मत प्राप्त किए, वीर ¨सह को 63 मत मिले, दिव्या ने प्रतिद्वंद्वी को 10 मतों से हराया। प्राचार्य डॉ. सोहन लाल भट्ट ने शांतिपूर्ण चुनाव कराने पर सभी कालेज स्टाफ व प्रशासन का आभार जताया। चुनाव में 45 वोट निरस्त हुए हैं। चुनाव में पांच वोटरों ने किसी को भी पसंद नहीं किया। इस मौके पर डॉ. सुनील कुमार, डॉ. संजीव कुमार शर्मा, डॉ. सीमा पुंडीर, देशराज ¨सह, अंकुर कुमार शर्मा, अंजलि, मनीष कुमार, विनोद जोशी, अर्जुन ¨सह आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस