राज्य ब्यूरो, देहरादून। प्रदेश में अगले विधानसभा चुनाव में चेहरा आगे किए जाने को लेकर कांग्रेस के भीतर मतभेद शुक्रवार को भी जाहिर हुए। नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत सबसे लोकप्रिय चेहरा हैं। उन्हें प्रचार समिति का अध्यक्ष बनाने से स्पष्ट हो गया कि उन्हें आगे कर चुनाव लड़ा जाएगा। वहीं प्रदेश अध्यक्ष से नेता प्रतिपक्ष की नई भूमिका में आए प्रीतम सिंह ने दोहराया कि राष्ट्रीय नेतृत्व यह बता चुका है कि किसी चेहरे को आगे कर चुनाव नहीं लड़ा जाएगा। राज्य में सामूहिक नेतृत्व में चुनाव होंगे।

गोदियाल ने की राहुल से मुलाकात

प्रदेश कांग्रेस के नवनियुक्त अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने नई जिम्मेदारी मिलने के बाद दिल्ली में पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की। उनके साथ प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव भी मौजूद रहे। बाद में मीडिया से बातचीत में गोदियाल ने कहा कि राहुल गांधी ने उनसे प्रदेश में सबको साथ लेकर चलने और समान दृष्टि से देखने की अपेक्षा की है। उन्होंने कहा कि वह उत्तराखंड आंदोलन के शहीदों के सपनों को पूरा करने के संकल्प के साथ आगे बढ़ेंगे। उन्होंने प्रदेश संगठन में हालिया बदलाव को लेकर वरिष्ठ नेताओं की नाराजगी से इन्कार किया।

सामूहिक प्रयासों से सत्ता में आएगी पार्टी

प्रदेश में विधानसभा चुनाव में पार्टी के चेहरे के बारे पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि हरीश रावत के चेहरे को आम आदमी देखना चाहता है। पार्टी नेतृत्व ने उन्हें कैंपेन कमेटी का अध्यक्ष बनाकर यह स्पष्ट कर दिया है। साथ में उन्होंने यह भी कहा कि पार्टी सामूहिक प्रयासों से ही सत्ता में आएगी। उन्होंने कहा कि वह सबसे मुलाकात कर उनका आशीर्वाद प्राप्त करेंगे। दिल्ली में मौजूद पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय से भी उन्होंने शुक्रवार को मुलाकात की।

प्रदेश पदाधिकारियों ने प्रीतम को दी बधाई

उधर, नेता प्रतिपक्ष की नई जिम्मेदारी मिलने के बाद प्रीतम सिंह से उनके दून स्थित आवास पर शुक्रवार को पार्टी पदाधिकारियों ने भेंटकर बधाई दी। मुलाकात करने वालों में प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना, महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा, अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष राजकुमार समेत कई नेता शामिल थे। मीडिया से बातचीत में प्रीतम सिंह ने कहा कि वह पार्टी को मजबूत करने का काम जारी रखेंगे। चार कार्यकारी अध्यक्ष बनाए जाने के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय नेतृत्व ने पार्टी की मजबूती के लिए यह कदम उठाया है। चुनाव में चेहरा विशेष आगे किए जाने पर उन्होंने कहा कि पार्टी नेतृत्व इस मामले में अपना रुख साफ कर चुका है। प्रीतम सिंह सोमवार को सुबह 11 बजे विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष का पदभार ग्रहण करेंगे।

यह भी पढ़ें:- उत्तराखंड: पूर्व कैबिनेट मंत्री नवप्रभात का बड़ा कदम, ठुकराया कांग्रेस घोषणा पत्र समिति का अध्यक्ष पद

Edited By: Sunil Negi