देहरादून, जेएनएन। अधीक्षण अभियंता पुष्कर सिंह रावत ने केदारनाथ धाम में तकरीबन 45 किमी पैदल चल कर 91 किमी लंबी लाइन का फॉल्ट ठीक करवाकर आपूर्ति सुचारु करवाई। उनके  इस कार्य पर प्रबंध निदेशक बीसीके मिश्रा ने सर्टिफिकेट देकर सम्मानित किया।

ऊर्जा निगम के अनुसार केदारनाथ धाम में 33/11 सब स्टेशन गुप्तकाशी से विद्युत आपूर्ति की जाती है। स्टेशन से धाम के बीच 91 किमी लंबी लाइन बिछाई गई है। मई-जून में आपदा आने से बार-बार ट्रिपिंग होती थी। इससे केदारनाथ धाम समेत समूचे इलाके में आपूर्ति प्रभावित होती थी। 

इस पर अधीक्षण अभियंता पुष्कर सिंह रावत आठ मजदूरों के साथ स्वयं ट्रिपिंग की जांच के लिए गए। जान जोखिम में डालकर जंगल, पहाड़ के पोल टू पोल जाकर बिजली लाइन जांच की और फॉल्ट दूर किए।

यह भी पढ़ें: दून विश्वविद्यालय की छात्रा आयुषी को मिला इंडो यूएस फैलोशिप अवार्ड Dehradun News 

इसका नतीजा यह रहा है कि जुलाई-अगस्त में भारी बारिश होने के बाद भी आपूर्ति प्रभावित नहीं हुई। वहीं रखरखाव में होने वाले खर्च में भी कमी आई। निदेशक परिचालन अतुल अग्रवाल की संस्तुति पर प्रबंध निदेशक बीसीके मिश्रा ने पुष्कर सिंह रावत को बेस्ट ऑफिसर का पुरस्कार दिया है।

यह भी पढ़ें: इंजीनियरिंग छात्रों के हुनर को पहचान देगा सरकार का यह फार्मूला, पढ़िए खबर

Posted By: Bhanu

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप