देहरादून, [जेएनएन]: साइंस (विज्ञान) और सोसाइटी (समाज) को करीब लाने के लिए वाडिया हिमालय भूविज्ञान संस्थान में इंडिया इंटरनेशनल साइंस फेस्टिवल-2018 के तहत दो दिवसीय आउटरीच प्रोग्राम शुरू किया गया। 

गुरुवार को आयोजित कार्यक्रम में संस्थान के मेन गेट से लेकर ऑडिटोरियम तक में भूकंप से बचाव बारे में जानकारी दी गई। एक तरह से संस्थान के ओपन-डे में आमजन से लेकर तमाम शिक्षण संस्थानों के छात्र इसका हिस्सा बने। विभिन्न सत्रों में छात्रों को विज्ञान व शोध कार्यों से जुड़ी तमाम जानकारी दी गई। साथ ही छात्रों को विभिन्न प्रयोगशालाओं का दौरा भी कराया गया। 

दूसरे सत्र में स्टेट एनवॉयरमेंट असेसमेंट अथॉरिटी के चेयरमैन डॉ. एसएस नेगी ने ग्रामीण हिमालयी क्षेत्र पर व्याख्यान दिया और वन एवं वन्यजीवों के संरक्षण के बारे में भी बताया। वहीं, विज्ञान भारती के अध्यक्ष डॉ. महेश भट्ट ने इंडिया इंटरनेशनल साइंस फेस्टिवल के पांच अक्टूबर से लखनऊ में शुरू हो रहे वृहद कार्यक्रम की जानकारी दी। इसके अलावा छात्र-छात्राओं ने विभिन्न प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेकर अपने विज्ञान के ज्ञान का प्रदर्शन किया। इस अवसर पर संस्थान की निदेशक डॉ. मीरा तिवारी, वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. राजेश शर्मा, डॉ. डीपी डोभाल, डॉ. पीएस नेगी आदि उपस्थित रहे। 

ये प्रतिभागी रहे विजयी 

निबंध प्रतियोगिता (जूनियर वर्ग) 

- प्रथम स्थान, सईद गाजी अब्बास काजमी (स्कॉलर्स होम) 

- दूसरा स्थान, परिधि कपूर (जसवंत मॉडर्न सीनियर सेकेंड्री स्कूल)

- तीसरा स्थान, मन्नत (केवि आइटीबीपी) 

सीनियर वर्ग 

- प्रथम स्थान, मोनिका मेहता(जसवंत मॉडर्न सीनियर सेकेंड्री स्कूल) 

- दूसरा स्थान, रिंपल नेगी (समर वैली) 

- तीसरा स्थान, (जीआरडी ऐकेडमी, निरंजनपुर) 

वाद-विवाद प्रतियोगिता 

- प्रथम स्थान, प्रशंसा लोदी (केवि एफआरआइ) 

- दूसरा स्थान,सृष्टि मैठाणी (एसजीआरआर पब्लिक स्कूल, पटेलनगर) 

- तीसरा स्थान, इशिता श्रीवास्तव (स्कॉलर्स होम) 

- सांत्वना पुरस्कार, तमन्ना बटोला (एसजीआरआर, वसंत विहार) 

निबंध प्रतियोगिता (संस्थान कार्मिक स्तर) 

- प्रथम, विशाल चौहान, दूसरा रजिता शुक्ला, तीसरा कल्पना चंदेल, सांत्वना एनके जुयाल। फोटोग्राफी प्रतियोगिता (संस्थान कार्मिक स्तर) 

- भूविज्ञान वर्ग में पुरुषोत्तम गर्ग, डॉ. पंकज चौहान और पर्यावरण में डॉ. विशाल चौहान व अनुराग ने क्रमश: पहला और दूसरा स्थान हासिल किया।

यह भी पढ़ें: विज्ञान करता है प्रकृति के रहस्यों को उजागर

यह भी पढ़ें: जियोस्पैटियल पोर्टल से जुड़ेगा उत्तराखंड, इससे आपातकालीन स्थिति में मिलेगी राहत

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप