जागरण संवाददाता, देहरादून: सड़क दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) रामजी शरण शर्मा ने सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए। उन्होंने कहा कि विभिन्न सड़कों के ब्लैक स्पॉट की पहचान कर उनमें अविलंब सुधार किया जाए।

सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में अपर जिलाधिकारी रामजी शरण शर्मा ने लोनिवि, व राजमार्ग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह चि²िनत ब्लैक स्पॉटों की पहचान करने के साथ ही वहां स्पीड लिमिट बोर्ड, एरो साईन, सड़क पर फैली निर्माण सामग्री को हटाने, साईन बोर्ड लगाने और जहा भी दुर्घटना संवेदनशील क्षेत्र हैं, उनमें आवश्यकतानुसार सुधार के काम किए जाएं। इस पर अगली बैठक में भी अपडेट लिया जाएगा। साथ ही फुटपाथों पर किए गए कब्जों को संबंधित उपजिलाधिकारी के सहयोग से हटाने, जरूरी स्थलों पर सीसीटीवी कैमरे लगाने और मुख्य मार्गों से मिलने वाली सड़कों पर पांच मीटर पहले रंबल स्ट्रिप्स बनाने के निर्देश भी अपर जिलाधिकारी ने दिए।

बैठक में एआरटीओ अधिकारी अरविंद पांडे ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से उन स्थलों की जानकारी दी जहां, अक्सर दुर्घटनाएं होती हैं। इस अवसर पर सीओ ट्रैफिक राकेश देवली, अधिशासी अभियंता डीपी सिंह, शिव सिंह रावत, एसडीओ विनय मोहन रतूड़ी आदि उपस्थित रहे। इन कार्यों को अमल में लाने के निर्देश

- मसूरी रोड पर शिव मंदिर के पास पार्किंग निर्माण।

- मैगी प्वाइंट क्षेत्र में पानी की निकासी को बेहतर किया जाए।

- डीआइटी के पास कॉलेज का साइन बोर्ड लगाने, रंबल स्ट्रिप्स बनाने के निर्देश।

- जाखन में सड़क पर स्ट्रिप रैंप निर्माण व रिफ्लेक्टर लगाए जाएं।

- आईटी पार्क के पास स्पीड ब्रेकर बनाने व टूटे हुए डिवाइडर को हटाया जाए।

- विभिन्न क्षेत्रों में यातायात में बाधा बन रहे बिजली के खंभे हटाने के निर्देश। दुर्घटना का स्पष्ट ब्योरा मांगा

अपर जिलाधिकारी ने यातायात पुलिस को परिवहन विभाग तथा सड़क सुरक्षा समिति को साझा किए जाने वाले विवरण में दुर्घटना की सटीक लोकेशन, दुर्घटना का वास्तविक कारण भी दर्शाने को कहा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस