जागरण संवाददाता, ऋषिकेश: Rishikesh News: बिजली बिल का भुगतान न होने पर बिजली का संयोजन काटने पहुंची विजिलेंस की टीम की जांच के दौरान गृहस्वामी की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई। जिसके बाद स्थानीय नागरिकों का गुस्सा भड़क गया। ऊर्जा निगम के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने और शव का पोस्टमार्टम कराने की मांग को लेकर नागरिकों ने कोतवाली में हंगामा किया।

बिल जमा न करने पर आ रहे थे नोटिस

पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, नई जाटव बस्ती ऋषिकेश निवासी सोनू (40 वर्ष) पुत्र श्याम सिंह के घर पर ऊर्जा निगम की ओर से बिजली का कनेक्शन दिया गया है। बताया जा रहा है कि पिछले कुछ महीनों से बिजली का बिल जमा न कराने पर ऊर्जा निगम की ओर से सोनू को नोटिस जारी किए जा रहे थे।

कनेक्‍शन जांच को पहुंची थी विजि‍लेंस की टीम

बुधवार को ऊर्जा निगम की विजि‍लेंस की टीम इस कनेक्शन की जांच के लिए पहुंची थी। जिस समय टीम जांच के लिए पहुंची तब सोनू व उसकी पुत्री घर पर मौजूद थे। आरोप है कि जांच दौरान टीम में शामिल अधिकारियों ने सोनू के साथ धक्का-मुक्की और गाली-गलौच कर दी। आरोप है कि धक्का लगने से सोनू बेहोश हो गया, जिसे स्थानीय नागरिकों ने राजकीय चिकित्सालय पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

धक्‍का मुक्‍की करने का आरोप

सोनू की मौत की सूचना पाकर बड़ी संख्या में आसपास के लोग पहले चिकित्सालय और फिर ऋषिकेश कोतवाली आ धमके। उनका आरोप था कि ऊर्जा निगम के अधिकारी व कर्मचारियों ने सोनू के साथ धक्‍का मुक्‍की की। धक्का लगने से ही उसकी मौत हुई है।

पुलिस कर रही है मामले की जांच

उन्होंने पुलिस से संबंधित अधिकारी व कर्मचारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर शव का पोस्टमार्टम कराने की मांग की। वरिष्ठ उप निरीक्षक डीपी काला ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। मौत के कारणों को जानने के लिए शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है।

यह भी पढ़ें: Almora News: चाय व दूध के विवाद में मजदूर की हत्या, साथी शव ले जा रहे थे बरेली, पिता वापस लेकर आया द्वाराहाट

Edited By: Sunil Negi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट