-त्रिवेणी घाट के समीप दो बच्चों को बचाने के प्रयास में बह रही महिला को जल पुलिस ने बचाया

-शिवपुरी में राफ्टिंग और कैंपिंग को आए दो युवक बह गए थे गंगा में, पीएसी की फ्लड कंपनी ने निकाला बाहर

जागरण संवाददाता, ऋषिकेश:

त्रिवेणी घाट पर जल पुलिस के जवानों ने चार व्यक्तियों को गंगा में डूबने से बचाया। वहीं शिवपुरी में गंगा में बहे दो युवकों को पीएसी की फ्लड कंपनी के जवानों ने सकुशल बचा लिया।

रविवार दोपहर में दिल्ली का 16 सदस्यीय दल त्रिवेणी घाट पर पहुंचा। यहां सभी गंगा में स्नान करने लगे। इस दौरान दल का सदस्य शिवांश गांधी (10) वर्ष पुत्र अशोक गांधी निवासी महावीर नगर दिल्ली, रौनक चोपड़ा (13) वर्ष पुत्र अनीश चोपड़ा निवासी मोहन गार्डन, उत्तम नगर, दिल्ली गंगा में डूबने लगे। जिन्हें बचाने के लिए गंगा में उतरी सरिता (48) वर्ष पत्नी गोविद निवासी मोहन गार्डन उत्तम नगर दिल्ली भी बचाने के प्रयास में खुद तेज बहाव की चपेट में आकर बहने लगी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची जल पुलिस की टीम ने तीनों को सकुशल बचा लिया। वहीं सायं करीब तीन बजे त्रिवेणी घाट पर गंगा में नहाते समय दीनदयाल (32) वर्ष पुत्र किशन देव निवासी मुकुंद नगर मुकुंदपुर दिल्ली गंगा में बहने लगा। जल पुलिस व फ्लड कंपनी के जवानों ने युवक को सकुशल बचा लिया। दीनदयाल ने बताया कि छह सदस्यीय दल के साथ राफ्टिग व कैंपिग के लिए ऋषिकेश आए थे। बचाव दल में घाट चौकी प्रभारी उप निरीक्षक जगत सिंह, रवि बालिया, हरीश गुसाईं, तेज सिंह, विनोद सेमवाल, जयदीप सिंह, पंकज जखमोला, शुभाष तोमर, अर्जुन सिंह, जगमोहन सिंह आदि शामिल थे।

उधर, शिवपुरी में गंगा स्नान के लिए आए दो युवक गंगा में डूबने लगे, जिन्हें पीएसी की फ्लड कंपनी के जवानों ने सकुशल बचा लिया। बचाव दल के मुताबिक दिल्ली निवासी चार दोस्त शिवपुरी रिवर प्वाइंट पर गंगा में नहा रहे थे। इसी बीच शाहनवाज और रोहन तेज बहाव की चपेट में आकर बहने लगे। उसके साथियों ने पुलिस को सूचना दी। जिसके बाद बचाव दल के दलजीत सिंह, हरीश सुंदरियाल, अनूप चंदोला व त्रेपन सिंह ने रेस्क्यू चलाते हुए कड़ी मशक्कत के बाद दोनों युवकों को सकुशल बचा लिया।

Edited By: Jagran