जागरण संवाददाता, देहरादून। Republic Day 2022  उत्तराखंड के अपर पुलिस महानिदेशक अभिनव कुमार को उनकी विशिष्ट सेवा के लिए आज गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रपति पुलिस पदक प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा सात अन्य पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों को सराहनीय सेवा के लिए पुलिस पदक दिया जाएगा। सभी पुलिस कार्मिकों को आज परेड ग्राउंड में कार्यक्रम में सम्मानित किया जाएगा।

1996 बैच के आइपीएस अभिनव कुमार मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के अपर प्रमुख सचिव भी हैं। अभिनव कुमार पहले आइपीएस हैं, जिन्हें राज्य में अपर प्रमुख सचिव की जिम्मेदारी दी गई है। अभिनव कुमार तेजतर्रार अफसर माने जाते हैं। वह एसएसपी हरिद्वार, एसएसपी देहरादून, आइजी गढ़वाल, आइजी बीएसएफ जैसी महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां भी निभा चुके हैं। इसके अलावा कई साल तक उन्होंने जम्मू-कश्मीर में भी सेवा दी।

इन्हें मिलेगा पुलिस पदक

-चमोली जिले में तैनात पुलिस उपाधीक्षक धन सिंह तोमर

-पुलिस मुख्यालय में तैनात पुलिस उपाधीक्षक नन्दन सिंह बिष्ट

-पौड़ी गढ़वाल में तैनात पुलिस उपाधीक्षक गणेश लाल

-जम्मू-कश्मीर में सीआइएसएफ के सहायक कमांडेंट मधुसूदन सेमवाल

-सीबीआइ मुख्यालय दिल्ली में तैनात कार्यालय अधीक्षक ओम प्रकाश नैथानी

-अभिसूचना मुख्यालय में तैनात निरीक्षक महेश चंद्र चंदोला

-चंपावत जिले में तैनात उपनिरीक्षक (विशेष श्रेणी) रमेश चंद्र भट्ट

पौड़ी के रहने वाले हैं ओम प्रकाश

सीबीआइ मुख्यालय दिल्ली में तैनात कार्यालय अधीक्षक ओम प्रकाश नैथानी मूल रूप से सतपुली (पौड़ी गढ़वाल) के रहने वाले हैं। नैथानी 14 साल तक सीबीआइ देहरादून में क्राइम असिस्टेंट के पद पर तैनात रहे। वहीं, सीआइएसएफ में सहायक कमांडेंट मधुसूदन सेमवाल देहरादून के निरंजनपुर निवासी हैं। मधुसूदन सीबीआइ, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग व एनआइए में सेवा दे चुके हैं।

सराहनीय सेवा के लिए इन्हें पुलिस पदक से किया जाएगा सम्मानित

गणतंत्र दिवस पर 26 जनवरी को पुलिस उपाधीक्षक चमोली धन सिंह तोमर, पुलिस उपाधीक्षक पुलिस मुख्यालय नंदन सिंह बिष्ट, पुलिस उपाधीक्षक जिला पौड़ी गणेश लाल, निरीक्षक अभिसूचना पुलिस मुख्यालय महेश चंद्र चंदोला, उप निरीक्षक विशेष श्रेणी जिला चंपावत रमेश चंद्र भट्ट को सराहनीय सेवा के लिए पुलिस पदक दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें- जानिए कौन है अनुराग रमोला, जिन्हें पीएम मोदी ने आज राष्ट्रीय बाल पुरस्कार से किया सम्मानित

Edited By: Raksha Panthri