जागरण संवाददाता, देहरादून: Jee Advanced Entrance Exam 2022  इंजीनियरिंग की सबसे कठिन प्रवेश परीक्षा जेईई एडवांस (JEE Advanced) की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है। 28 अगस्त को होने वाली इस परीक्षा के लिए आनलाइन पंजीकरण शुरू हो गए हैं।

जिम्मा आइआइटी बांबे ( IIT Bombay) को मिला

इस बार परीक्षा का जिम्मा आइआइटी बांबे ( IIT Bombay) को मिला है। जेईई मेन (JEE Main) के शीर्ष 2,50,000 उम्मीदवार जेईई एडवास में शामिल होंगे। बता दें, इंजीनियरिंग की प्रतिष्ठित परीक्षा जेईई-एडवांस के माध्यम से देशभर की 23 आइआइटी ( IIT) में प्रवेश दिया जाता है।

जेईई मेन का आयोजन किया जाता साल में दो बार

वहीं जेईई-मेन के रैंक के आधार पर एनआइटी (NIT), ट्रिपल आइटी और जीएफटीआइ (GFTI) में प्रवेश मिलता है। जेईई मेन का आयोजन साल में दो बार किया जाता है। पहला सत्र जून और दूसरा जुलाई में हुआ था।

देशभर की 23 आइआइटी में 16,234 सीट

अविरल क्लासेज के निदेशक डीके मिश्रा के अनुसार देशभर की 23 आइआइटी में 16,234 सीट हैं। जिनमें एससी-एसटी, अन्य पिछड़ा वर्ग, दिव्यांग सहित तमाम अन्य आरक्षण भी लागू हैं। इसके अलावा कुछ पाठ्यक्रम अलोकप्रिय भी हैं।

  • इस स्थिति में प्रतिस्पर्धा बहुत कड़ी है। टाप की आइआइटी (IIT) में मनचाही ब्रांच मिलना आसान नहीं है। उन्होंने बताया कि जेईई एडवांस (JEE Advanced ) के लिए पंजीकरण शुरू हो चुके हैं। पंजीकरण 11 अगस्त तक किए जा सकते हैं।
  •  वहीं, आवेदन शुल्क जमा करने की आखिरी तारीख 12 अगस्त है। प्रवेश पत्र 23 अगस्त को जारी किए जाएंगे। जबकि परीक्षा 28 अगस्त को होगी।

IIT JEE MAIN Result : जेईई मेंस में 446वीं रैंक पाकर शहर के टापर बने प्रबकीरत, एडवांस की तैयारी में जुटे छात्र

किस वर्ग के कितने आवेदक

  • अनारक्षित 96187
  • अनारक्षित दिव्यांग 5063
  • सामान्य ईडब्लूएस 23750
  • सामान्य ईडब्लूएस दिव्यांग 1250
  • अन्य पिछड़ा वर्ग 64125
  • अन्य पिछड़ा वर्ग दिव्यांग 3375
  • अनुसूचित जाति 35625
  • अनुसूचित जाति दिव्यांग 1875
  • अनुसूचित जनजाति 17812
  • अनुसूचित जनजाति दिव्यांग 938

उत्तराखंड में यहां होंगे केंद्र

  • देहरादून
  • हल्द्वानी
  • हरिद्वार
  • रुड़की

ये है पंजीकरण शुल्क

  • महिला, एससी-एसटी व दिव्यांग-1400
  • अन्य-2800

यहां करें पंजीकरण

jeeadv.ac.in

आर्किटेक्चर कैटेगरी में आइआइटी रुड़की की पहली रैंक, 15 हजार संस्थानों में एनआइटी श्रीनगर 131वें स्थान पर

Edited By: Sunil Negi