देहरादून, जेएनएन। रणजी ट्रॉफी मुकाबले में उत्तराखंड ने पहली पारी में चार विकेट गंवाकर 175 रन बना लिए हैं। दूसरे दिन की शुरुआत में दीपक धपोला की घातक गेंदबाजी ने मेघालय को पहली पारी में 311 रनों पर समेट दिया। धपोला ने मेघालय के बाकी पांचों विकेट अपने नाम किए।

देहरादून के रायपुर स्थित राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में उत्तराखंड और मेघालय के बीच खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी मुकाबले में शुक्रवार को मेघालय की टीम पांच विकेट पर 294 रन से आगे खेलने उतरी। उत्तराखंड के तेज गेंदबाज दीपक धपोला ने पहले सत्र में एक बार फिर शानदार गेंदबाजी का प्रदर्शन करते हुए मेघालय की पारी को मात्र 311 रनों पर समेट दिया। 

दूसरे दिन मेघालय टीम ने मात्र 11.5 ओवर में अपने पांच विकेट गंवा दिए। अभय नेगी (11 वर्ष) व गुरिंदर सिंह (23 वर्ष) को छोड़ अन्य बल्लेबाज क्रीज पर नहीं टिक सके। उत्तराखंड के लिए दीपक धपोला ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 28.5 ओवर में 52 रन देकर छह विकेट झटके। सन्नी राणा व धनराज शर्मा ने दो-दो विकेट हासिल किए।

बल्लेबाजी में कमजोर पड़ रही उत्तराखंड

जवाब में खेलने उतरी उत्तराखंड टीम को करनवीर कौशल व विनीत सक्सेना की सलामी जोड़ी मजबूत शुरुआत नहीं दिला सकी। टीम के 45 रनों के स्कोर पर करनवीर कौशल (24) रन बनाकर पवेलियन लौट गए। करनवीर के आउट होने के बाद टीम लड़खड़ा गई। कार्तिक जोशी (06) व वैभव पंवार (01) जल्द ही पवेलियन लौट गए। सौरभ रावत (20) भी लंबी पारी नहीं खेल सके। इसके बाद कप्तान रजत भाटिया ने विनीत सक्सेना के साथ पारी को संभाला। विनीत सक्सेना (62) व रजत भाटिया (54) अभी क्रीज पर डटे हुए हैं। मेघालय की ओर से दीपू ने दो विकेट चटकाए।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड महिला टीम ने बिहार को दी करारी शिकस्त, आठ विकेट से हराया

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड की टीम ने मिजोरम को पारी और 76 रन से हराया

यह भी पढ़ें:  रणजी ट्रॉफी में पहले दिन उत्तराखंड को 71 रनों की बढ़त

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप