देहरादून, जेएनएन। प्रदेश में स्कूली बच्चों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का 'परीक्षा पे चर्चा' कार्यक्रम का सीधा प्रसारण देखा। स्कूलों में प्रोजेक्टर, कंप्यूटर और टीवी के माध्यम से बच्चों को यह कार्यक्रम दिखाया गया। इसके अलावा वर्चुअल क्लास के माध्यम से 482 स्कूलों के छात्र भी पीएम मोदी के कार्यक्रम से जुड़े।

परीक्षा पे चर्चा के तीसरे संस्करण में पीएम मोदी ने बच्चों को तनाव न लेने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि परीक्षा जीवन का बस एक पड़ाव है, आखिरी मंजिल नहीं। बोर्ड परीक्षाओं का दरवाजा खुलने के बाद तो जीवन में असल रास्ते खुलते हैं। दून में तमाम सरकारी और निजी स्कूलों में कार्यक्रम का सीधा प्रसारण दिखाया गया। स्कूली बच्चों के साथ ही शिक्षकों व सहायक स्टाफ ने भी कार्यक्रम देखा। करीब दो घटे के कार्यक्रम को स्कूली छात्र-छात्राओं व शिक्षकों ने बेहद उपयोगी बताया।

छात्रों ने कहा कि प्रधानमंत्री ने बेहद सरल ढंग से तनावमुक्त रहने के टिप्स दिए हैं। उनके सुझाव निश्चित तौर पर उनके लिए फायदेमंद साबित होंगे। शिक्षकों ने भी प्रधानमंत्री के कार्यक्रम की सराहना की। मुख्य शिक्षा अधिकारी दून आशा रानी पैन्यूली ने बताया कि अकेले देहरादून जिले के 273 स्कूलों में टीवी-कंप्यूटर व 69 स्कूलों में रेडिया के माध्यम से 62916 छात्र-छात्राओं ने पीएम को सुना। इसके अलावा समग्र शिक्षा अभियान के राज्य अपर परियोजना निदेशक डॉ. मुकुल कुमार सती ने राजीव गांधी नवोदय विद्यालय के स्मार्ट स्टूडियो में बैठ कर पूरा कार्यक्रम देखा।

सीबीएसई के क्षेत्रीय निदेशक रणबीर सिंह ने केवि आइटीबीपी में बच्चों के साथ कार्यक्रम देखा। दून में श्री लक्ष्मण विद्यालय इंटरमीडिएट कॉलेज, राजीव गांधी नवोदय विद्यालय, जवाहर नवोदय विद्यालय, राजकीय बालिका इंटर कॉलेज राजपुर रोड, गांधी इंटर कॉलेज समेत केवि स्कूलों, एसजीआरआर के स्कूलों में छात्रों ने यह कार्यक्रम देखा। पीएम मोदी के कार्यक्रम में शामिल हुए प्रदेश के छात्र व शिक्षक दिल्ली में हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में प्रदेश के छात्रों व शिक्षकों ने भी शिरकत की। उन्होंने जागरण से बातचीत में अपने अनुभव भी साझा किए।

पीएम ने थपथपाई अनुराग की पीठ 

परीक्षा पे चर्चा के तहत ही केवि ओएनजीसी के अनुराग रमोला की पेंटिंग तालकटोरा स्टेडियम में कार्यक्रम के दौरान प्रदर्शनी के लिए लगी थी। खुद पीएम मोदी ने अनुराग से रूक कर बात की। अनुराग से उनका परिचय लेने के बाद, पीएम ने उनकी पेंटिंग का विषय पूछा। अनुराग ने बताया कि उनकी पेंटिंग परीक्षा प्रबंधन पर आधारित है। इसके बाद उन्होंने अनुराग से पूछा कि आप कैसे तनाव को कम करते हैं। अनुराग ने उत्तर दिया योगा करके। इस पर पीएम अनुराग की पीठ थपथपाते हुए आगे बढ़ गए।

यह भी पढ़ें: जेईई मेन में इस बार चूकने वाले अभ्यर्थी न हों निराश, अभी है एक और मौका

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस