जागरण संवाददाता, देहरादून। कोरोना संक्रमण की लगातार बढ़ रही चुनौती को देखते हुए खाकी ने पुलिस मित्र बनाने का निर्णय लिया है। ये मित्र पुलिस के साथ कंधे से कंधा मिलाकर जरूरतमंदों की सहायता करेंगे। एसएसपी डॉ. योगेंद्र सिंह रावत ने सभी थाना प्रभारियों को स्वच्छ छवि वाले व्यक्तियों को पुलिस मित्र बनाने के निर्देश दिए हैं।

एसएसपी ने कहा कि वर्तमान में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए विपदा की इस घड़ी में पुलिस की ओर से किए जा रहे कार्यों से प्रेरित होकर कई व्यक्तियों ने संपर्क कर आमजन की सहायता की इच्छा जाहिर की है। इसी के चलते यह निर्णय लिया गया है। ऐसे व्यक्तियों को थाना स्तर पर पुलिस मित्र कार्ड मुहैया करवाए जाएंगे। पुलिस मित्र बने व्यक्तियों से मुख्य चौराहों व अन्य स्थानों पर व्यक्तियों को कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूक करते हुए नियमों का सख्ती से पालन करवाने में सहायता ली जाएगी। इसके अलावा पुलिस मित्र जरूरतमंद व्यक्तियों तक जीवन रक्षक दवाएं, राशन व अन्य सामग्री की समय से उपलब्धता सुनिश्चित करने में भी मदद करेंगे।

28 पुलिसकर्मियों समेत आमजन ने करवाया एंटीबॉडी टेस्ट

कोरोना संक्रमण के बीच गंभीर संक्रमितों को प्लाज्मा डोनेट करने के लिए पुलिस लाइन में एंटीबॉडी जांच करने के लिए दो दिवसीय शिविर लगाया गया। इस दौरान 28 पुलिसकर्मियों व आम लोग ने एंटीबॉडी टेस्ट के लिए सैंपल दिए। सोमवार को भी शिविर लगेगा, जिसमें हाल ही में कोरोना को मात दे चुका कोई भी व्यक्ति अपना सैंपल दे सकता है। जिसकी एंटीबॉडी बनी होगी तो वह गंभीर रूप से संक्रमित मरीजों को प्लाज्मा डोनेट कर सकेंगे। पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार, एसएसपी डॉ. योगेंद्र सिंह रावत, उत्तराखंड पुलिस वाइफ वेलफेयर एसोसिएशन (उपवा) की अध्यक्ष अलकनंदा अशोक कुमार व सचिव लता रावत के सहयोग से रविवार को शिविर लगाया गया। जिसमें उक्त पुलिस अधिकारियों के साथ अन्य पुलिसकर्मियों व शहरवासियों ने सैंपल दिए। इस दौरान डीजीपी अशोक कुमार ने आमजन से अपील की कि वह कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की सहायता के लिए अधिक से अधिक संख्या में प्लाज्मा डोनेट करें।

मिशन हौसला अभियान के तहत मदद जारी

एसएसपी डॉ. रावत ने कहा कि मिशन हौसला अभियान के तहत लगातार जरूरतमंदों तक मदद पहुंचाई जा रही है। अभियान के विषय में जनमानस को और जागरूक करने के लिए थाना प्रभारियों की ओर से अपने-अपने थाना क्षेत्र में जीतेंगे जंग कोरोना से संबंधित फ्लेक्स व बैनर तैयार करते हुए उन्हें सार्वजनिक स्थानों पर लगाया गया है। इन पर सहायता के लिए संबंधित थाना प्रभारी, चौकी प्रभारी, हल्का प्रभारी व अन्य आकस्मिक फोन नंबर उपलब्ध कराए गए हैं।

यह भी पढ़ें-पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ली छात्रा की फीस की जिम्मेदारी

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें