देहरादून, जेएनएन। देव ज्वैलर्स को लूटने में इस्तेमाल बाइक को करन और सोनू ने हरिद्वार से किराए पर लिया था। वारदात के लिए दोनों दिल्ली से चार अक्टूबर को ही हरिद्वार पहुंच गए थे। यहां दोनों ने एक होटल में ठिकाना बनाया था। पुलिस की तफ्तीश में इस होटल से दोनों की आइडी मिली थी, जिससे पुलिस दोनों की पहचान करने में कामयाब रही। वहीं, रविवार को प्रेमनगर पुलिस ने विकासनगर और पटेलनगर से लूटी गई चेन को खरीदने वाले रायपुर के सुनार को कोर्ट में पेश कर दिया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। 

बता दें, दिल्ली के द्वारिका निवासी करन और महिपालपुर के रहने वाले सोनू यादव ने सात अक्टूबर को देव ज्वैलर्स को लूटने से पहले चार अक्टूबर को विकासनगर और पांच अक्टूबर को पटेलनगर में चेन लूट की वारदात को अंजाम दिया था। सीसीटीवी कैमरों की फुटेज से चार और पांच अक्टूबर की वारदात के बाद दोनों की पहचान हुई थी। उसी दौरान पता चला कि बदमाशों ने लूटी गई चेन रायपुर के दशमेष विहार निवासी सूर्य प्रकाश सोनी को बेचा था। सोनी की दशमेष विहार में दुकान है। 

वहीं, सूत्रों से पता चला कि करन और सोनू चार अक्टूबर को हरिद्वार पहुंचे थे। यहां एक होटल में कमरा लिया था। वहीं से वारदात को अंजाम देने आए थे। इतना सबकुछ पता चल जाने के बाद भी बदमाश पुलिस की पकड़ से दूर हैं। पुलिस का दावा है कि जल्द ही बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। 

यह भी पढ़ें: प्रेमनगर लूटकांड का पुलिस ने किया पर्दाफाश, हत्थे चढ़ा एक ज्वेलर Dehradun News

एसएसपी अरुण मोहन जोशी ने बताया कि करन और सोनू की तलाश में टीमें लगातार दबिश दे रही हैं। दोनों की जल्द गिरफ्तारी के साथ लूटे गए सोने-चांदी के आभूषणों की भी शत-प्रतिशत बरामदगी की जाएगी। 

यह भी पढ़ें: नारकोटिक्स कर्मी बनकर ट्रेन में यात्रियों को लूटा, ट्रेन के रुकते ही अंधेरे में ओझल हो गए लुटेरे

Posted By: Raksha Panthari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप